13 DECFRIDAY2019 4:05:40 AM
Nari

माइग्रेन और किडनी स्टोन का इलाज है तुलसी वाला दूध, मिलेंगे कई लाजवाब फायदे

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 28 Mar, 2019 06:01 PM
माइग्रेन और किडनी स्टोन का इलाज है तुलसी वाला दूध, मिलेंगे कई लाजवाब फायदे

रोजाना एक गिलास दूध का सेवन सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। दूध का ज्यादा फायदा लेने के लिए आप अक्सर उसमें बादाम, चॉकलेट पाउडर या अन्य पौष्टिक चीजें डालकर पीते हैं। मगर आज हम आपको दूध में तुलसी डालकर पीने के फायदे बताने जा रहे हैं। रोजाना तुलसी वाला दूध पीने से आपकी माइग्रेन और किडनी स्टोन की समसया दूर होती है। इसके अलावा तुलसी के पत्तों और दूध में मौजूद न्यूट्रिएंट्स आपको कैंसर और दिल की बीमारियों से बचाने में भी मदद करते हैं। तो चलिए जानते हैं दूध में तुलसी मिलाकर पीने से आपको क्या-क्या फायदे होते हैं।

 

तुलसी वाला दूध पीने का सही समय

एक गिलास दूध में तुलसी की 3-4 पत्तियां अच्छे से उबाल लें और ठँडा करके दूध का सेवन करें। आप अगर खाली पेट दूध का सेवन करेंगे तो आपको ज्यादा फायदा मिलेगा। 


जिद्दी सिरदर्द

आज काम का तनाव लोगों में इस कदर है कि सिरदर्द व माइग्रेन की समस्या होना आम सी बात हो गई है। ऐसे में लोग कई तरह के पेनकिलर खाने शुरु कर देते हैं लेकिन इन दवाइयों के साइड इफेक्ट्स भी बहुत होते हैं। इसकी जगह पर अगर आप तुलसी वाला दूध पीएं आपको बिना किसी तरह के साइड इफेक्ट तुरंत आराम मिलेगा। 

PunjabKesari

 

स्ट्रेस व डिप्रेशन 

बिजी शैड्यूल के चलते तनाव की समस्‍या बहुत आम हो गई है लेकिन गर्म दूध में तुलसी मिलाकर पीने से नर्वस सिस्‍टम रिलैक्‍स होता है। यह स्ट्रेस हार्मोन को नियंत्रि‍त कर एंजाइटी और डिप्रेशन से बचाता है, जिससे व्‍यक्ति का तनाव अपने आप कम हो जाता है। 

 

वायरल इंफेक्शन व फ्लू से बचाव

बदलते मौसम के कारण अक्सर आप वायरल इंफैक्शन या फ्लू के शिकार हो जाते हैं। ऐसे में वायरल इंफैक्शन या फ्लू को दूर करने के लिए दूध में तुलसी, लौंग और काली मिर्च को उबालकर ठंडा कर लें। इस दूध का सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है और आपकी इन समस्याओं को दूर करता है।

PunjabKesari

 

बुखार में भी फायदेमंद

तुलसी में एंटी-बैक्‍टीरियल और एंटीबायोटिक गुण पाए जाते हैं जो बुखार का इलाज करने में मददगार होते हैं। इसमें मलेरिया के आम संक्रमण के कारण होने वाले बुखार का इलाज करने की क्षमता होती है। बुखार होने पर आधा लीटर पानी में थोड़ी सी तुलसी की पत्तियां और इलाइची पाउडर को मिलाकर उबाल लें। जब यह उबलकर आधा रह जाए तो इसमें दूध और चीनी मिलाकर काढ़ा बना लें। इसे हर दो से तीन घंटे के बाद पीएं।

 

इम्यून सिस्टम मजबूत

इस दूध का रोजाना सेवन रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने का काम भी करता है। इससे आप पेट से जुड़ी प्रॉब्लम, अपच, कब्ज और एसिडिटी जैसी समस्याओं से भी बचे रहते हैं।

 

हार्ट प्रॉब्लम से भी बचाव

दिल की बीमारी से ग्रस्‍त लोग या वे लोग जिन्हें होने की संभावना हो, तो ऐसे लोगों को रोज सुबह खाली पेट दूध और तुलसी का सेवन करना चाहिए। इससे हार्ट प्रॉब्लम्स कम हो जाती है। 

PunjabKesari

 

सांस संबंधी समस्याएं

अगर किसी व्‍यक्ति को अस्‍थमा या अन्‍य कोई सांस सम्‍बंधी रोग है तो उसे प्रतिदिन सुबह तुलसी और दूध का सेवन करना चाहिए। तुलसी और दूध में एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण इससे उसकी बीमारी कुछ ही दिनों में सही होना शुरू हो जाएगी।

 

कैंसर से बचाव

एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन्स, पौष्टिक खनिज तत्व और एंटीबायोटिक के गुणों से भरपूर तुलसी वाले दूध का सेवन शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है। रोजाना सुबह शाम नियमित रूप से तुलसी वाला दूध पीने से आप कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से बचे रहते हैं।

 

किडनी स्टोन में असरदार

अगर किसी व्‍यक्ति को किडनी में स्‍टोन होने की शुरूआत हुई है तो उसे दूध और तुलसी का सेवन करना चाहिए, इससे किडनी का स्‍टोन धीरे-धीरे गलने लगता है।

PunjabKesari

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News