20 MAYMONDAY2024 9:13:40 AM
Nari

कभी बकरियां चराती थी फास्ट बॉलर अनीसा, अब चैलेंजर क्रिकेट ट्रॉफी-19 में हुआ सिलेक्शन

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 08 Sep, 2021 10:11 AM
कभी बकरियां चराती थी फास्ट बॉलर अनीसा, अब चैलेंजर क्रिकेट ट्रॉफी-19 में हुआ सिलेक्शन

राजस्थान के बाड़मेर जिले के छोटे से गांव में कभी बकरिया चराने वाली अनीसा बानो आज पूरे देश में अपना नाम रोशन करने जा रही हैं। दरअसल, अनीसा बानो मेहत चैलेंजर क्रिकेट ट्रॉफी-19 में सिलेक्ट हो गई है।  27 अगस्त को जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में हुए ट्रायल में उनका सिलेक्शन बतौर गेंदबाज किया गया है। बता दें कि अनीसा अपने समाज और जिले की पहली ऐसी बेटी है जो स्टेट टीम के लिए क्रिकेट खेलेंगी, लेकिन यहां तक पहुंचना अनीसा के लिए किसी चैलेंज से कम नहीं था। आईए जानते हैं उनके इस सफर के बारे में-

PunjabKesari

 गांव में कोई मैच होता तो  बाउंड्री के पास बैठ कर पूरा मैच देखती थी अनीसा
राजस्थान के बाड़मेर जिले के छोटे से गांव कानासार की रहने वाली अनीसा स्कूल से घर आने के बाद मवेशियों के अलावा भेड़-बकरियां चराती थी। लेकिन उन्हें शुरू से ही क्रिकेट मैच देखने का शौक था। गांव में कोई मैच होता तो वे बाउंड्री के पास बैठ कर पूरा मैच देखती थी, इसके बाद वह  बकरियां चराने के दौरान वे दो घंटे प्रैक्टिस करती थीं। 

PunjabKesari

गांव के खेत में ही क्रिकेट की प्रैक्टिस करती थी अनीसा
 8वीं कक्षा में ही उन्होंने अपने इस खेल को जुनून बना लिया था। अनीसा को जब लगा कि वे अच्छी प्लेयर बन सकती हैं तो भाइयों और गांव के बच्चों के साथ क्रिकेट की प्रैक्टिस करने लगीं। 4 साल तक उन्होंने गांव के खेत में ही क्रिकेट की प्रैक्टिस की। वहीं इस बीच जब उनके भाई को पता चला कि चैलेंजर ट्रॉफी-19 के लिए ट्रायल हो रहे हो तो अनीसा का भी रजिस्ट्रेशन कर दिया। पहले उनका सिलेक्शन टॉप 30 प्लेयर में हुआ। इसके बाद दूसरे ट्रायल में उन्हें टॉप 15 खिलाड़ियों में बतौर बॉलर शामिल किया गया।

PunjabKesari

वहीं, राजस्थान में आयोजित चैलेंजर क्रिकेट ट्रॉफी-19 में बतौर फास्ट बाॅलर सिलेक्ट होकर अनीसा बानो ने यह साबित कर दिया कि मेहनत करने वालों की कभी हार नहीं होती।

Related News