16 OCTWEDNESDAY2019 10:54:26 PM
Life Style

औरतों से ही जानिए, ससुराल में सुखी रहती हैं या दुखी

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 08 Aug, 2019 05:20 PM
औरतों से ही जानिए, ससुराल में सुखी रहती हैं या दुखी

अपनो को छोड़ कर दूसरे घर में जाना और अपनी जगह बनाना आसान नहीं होता लेकिन लड़कियां यह मुश्किल काम भी प्यार और समझदारी से करती है। मगर बहुत-सी लड़कियां के मन में शादी से पहले एक सवाल जरूर चल रहा है कि क्या उनके सास-ससुर उनसे अच्छा बर्ताव करेंगे भी या नहीं? कहीं न कहीं ये सवाल उनके दिल में घर कर जाता है जैसे कि इसी सवाल के जवाब पर उनकी जिंदगी टिकी हो। वैसे लड़कियां का ऐसा सोचना काफी हद तक लाजिमी भी है, ससुराल वाले एक लड़की की जिंदगी में बहुत बड़ा किरदार निभाते है, लड़कियां की खुशियां ससुराल वाले सदस्यों के बर्ताव व प्यार पर टिकी होती है। चलिए आपको आज 7 ऐसे औरतों की आपबीती बताते है जो शायद आपके सारे सवालों का जवाब दे सकती है।  

 

सास-ससुर से प्यारा रिश्ता:सुहासिनी त्यागी

उनकी शादी को 2 साल हो चुके है और वो बेहद खुश है। उनका कहना है कि उनकी सासुमां उनका हर काम में हाथ बटाती है। सुहासिनी उनसे अपनी हर दिल की बात शेयर करती है। उनका ससुर उनको, उनके पिता की तरह प्यार करता है और सुहासिनी की सेफ्टी की चिंता में लगे रहते है। वो कहती है कि उन दोनों ने इस रिश्ते को निभाने के लिए एडजस्टमेंट की है और एक साथ शांति से रहने के लिए अपनी अपनी ईगो को भी त्यागा है। खुशहाल जीवन जीने के लिए यही सबसे बड़ा मूल मन्त्र है। 

PunjabKesari

पति के बर्ताव से हूं परेशान:निधि अग्रवाल

निधि का अलग ही मुद्दा है, वो कहती है कि उन्हें उनके सास-ससुर से कोई परेशानी नहीं है, उनकी परेशानी उनके पति का बर्ताव है। वो जब भी अपनी सासुमां से आर्गुमेंट करती है तो उनके पति उनका कभी भी साथ नहीं देते चाहे वो सही ही क्यों न हो। वो हमेशा उन्हें अकेले में मनाते है और उनकी यह आदत निधि को बहुत परेशान करती है।

वर्किंग वुमेन के लिए स्ट्रगलिंग लाइफ: पल्लवी वेणुगोपाल

पल्लवी का कहना है कि उनकी सासुमां हमेशा से ही घर संभालती थी इसी वजह से वो चाहती है कि पल्लवी भी घर का काम करें, बल्कि वो 9 से 5 तक जॉब पर होती है। उनके पति और उन्होंने एक नौकरानी को रखने के लिए अपनी सासुमां से कई बार अनुरोध किया। हालांकि, नौकरानी को पैसे देने के लिए भी वो दोनों तैयार है लेकिन उनकी सास उस बात को लेकर उन्हें खर्चीला समझती है। इसलिए घर और जॉब दोनों को संभालना उनके लिए बहुत बड़ी चुनौती है। फिर भी वो स्ट्रगल करती है और दोनों कामों को बखूबी संभालती है। 

चाहिए पर्सनल स्पेस: यामिनी झा

यामिनी का कहना है कि वो अपने ससुराल वालों से बहुत प्यार करती है पर उतना ही प्यार उन्हें अपनी पर्सनल स्पेस से भी है। वो नए घर में शिफ्ट होना चाहती है। उनके इनलॉस उनके कपड़े और खाने-पीने के बारे में टोकते है जो उन्हें बिल्कुल भी पसंद नहीं है। वो कहती है कि आस-पास में ही वो भी एक नया घर खरीद ले जिससे वो आसानी से अपने ससुराल वालो से मिल भी लेंगी और उनकी बात भी रह जाएगी। 

PunjabKesari

काफी मॉडर्न है सास-ससुर:मेघा अनेजा

वो कहती है कि उनका मायका काफी कंसरवेटिव था ,उनकी बहन और उनपर काफी पाबंदिया थी, उनके कपड़े से लेकर उनके रहन सहन तक। अब यह परेशानी उन्हें अपने ससुराल में नहीं झेलनी पड़ती। उनके इनलॉस काफी मॉडर्न है और उन्हें अपने सास-ससुर बहुत प्यारे है।    

ससुराल कभी मायका नहीं बन सकता: मान्या कपूर

उन्होंने इस बात को स्वीकार कर किया है कि ससुराल वाले अपनी बहू को प्यार और उनकी देखभाल नहीं कर सकते हैं। जिस तरह से वे अपनी बेटी का ख्याल करते है वैसा ख्याल वो अपने बहू का कभी नहीं कर सकते। कई बार, वो उनके साथ रह कर भी एक अजनबी की तरह महसूस करती है और सोचती है कि अगर वो अपन  पति के साथ किसी दूसरे घर में शिफ्ट हो जाए, तो यही बेहतर होगा।

बोलने से पहले सोचना पड़ता है कई बार:नैना काश्यप

वो सबसे बहुत प्यार करती है और उनके ससुराल वाले अच्छे लोग हैं और वो वास्तव में उनका सम्मान करती है । वे काफी सहायक हैं लेकिन यह रिश्ता जो वो उनके साथ साझा करती है, वह वास्तव में नाजुक है। उनके सामने कुछ भी बोलने से पहले दो बार सोचना होगा और कहीं भी बाहर निकलने से पहले उनकी अनुमति लेनी होगी। नैना को हर बात पर हमेशा यह आशंका रहती है कि उनके ससुराल वाले क्या सोचेंगे?

PunjabKesari

Related News