Twitter
You are hereNari

स्किन इंफैक्शन यानी डर्मेटाइटिस से बचाव के उपाय

स्किन इंफैक्शन यानी डर्मेटाइटिस से बचाव के उपाय
Views:- Monday, July 17, 2017-5:15 PM

डर्मेटाइटिस यानी त्वचा पर पपड़ी या पीली परत जम जाना।  यह प्रॉबल्म ज्यादातर मौसम में बदलाव के कारण होती है, जिसे हम साधारण भाषा में एलर्जी का नाम दे देते है। इस समस्या के दौरान सिर की त्वचा, कान और चेहरे पर पीली और चिकनी परत जम जाती है। अगर समस्या शिशु में हो तो इसे क्रेडल कैप, अगर बड़ी उम्र को लोगों के सिर पर हो तो इसे रूसी कहा जाता है। यह समस्या केवल सिर पर नहीं बल्कि शरीर के कई हिस्सों जैसे छाती के ऊपरी हिस्से को, पीठ और शरीर के अन्य भागों पर हो सकती है क्योंकि इन जगहों पर तेल ग्रंथियां जाता होती है। अगर आप भी इस तरह की परेशानी से गुजर रहे हो तो इसका 


- डर्मेटाइटिस रखें इन बातों पर ध्यान 

प्रभावित स्किन को धोएं

चकत्ते वाली जगह को गर्म पानी के साथ धोएं और कोमल मात्रा में साबुन लगाएं। ध्यान रखें अगर यह समस्या ज्यादा समय तक पानी में रहने से हुई है तो इस प्रक्रिया को न अपनाएं। 

इसको फैलाने वाली चीजों से बचें

ज्यादातर लोगों को यह समस्या कॉस्मेटिक्स, परफ्यूम, हेयर प्रोडक्ट्स और धातु के आभूषण के इस्तेमाल से होती है। इसी तरह डिटर्जेंट, साबुन या अन्य घरेलू सफाई करने के कैमिकल्स के इस्तेमाल से भी यह समस्या हो सकती है। इसलिए बेहतर होगा कि ऐसी चीजों से परहेज रखें और कोई कोमल और सुगंध रहित प्रॉड्क्ट का इस्तेमाल करें। 

ओरल एंटीहिस्टामिन लें 

अगर इस जगह पर खुजली ज्यादा मात्रा में हो रही है तो सोने से पहले एंटीहिस्टामिन जैसे बेनाड्रिल लें। इससे खुजली में काफी आराम मिलेगा। 

मॉइश्चराइजिंग लोशन या क्रीम

अगर त्वचा ज्यादा रूखी है तो हर तीन घंटे में लोशन लगाएं। रोज लगाए जान वाले साबुन की जगह  इमोल्लिएंट (emollients) लगा सकते है। परन्तु डॉक्टर से एक बार जरूर पूछ लें। 

- कुछ घरेलू इलाज 

मेथी दाने 

रात को 2-3 चम्मच मेथी के दानों पानी में भिगो के रख दें। सुबह इसे अच्छी तरह पीस कर पेस्ट बना लें। इस पेस्ट में पानी मिलाकर पतला कर लें और प्रभावित जगह पर लगाएं। आधे घंटे बाद पानी से धोकर साफ कर लें। इससे ड्राईनेस और पपड़ी की समस्या दूर होगी।

एलोवेरा

एलोवेरा की जैल निकालकर प्रभावित स्किन पर लगाएं और हल्के से मसाज करें। फिर 20 मिनट ऐसे ही लगा रहने दें। बाद में इसे ठंडे पानी के साथ साफ कर लें। इससे स्किन  मॉश्चराइज़ होगी और रूखापन दूर होगा।

गुड़हल की पत्तियां

गुलहड़ की पत्तियों के छोटे टुकड़े करके उसमें थोड़ा पानी मिला लें। अब इसको पीसकर पेस्ट बना लें और प्रभावित हिस्से पर लगाएं। 40 मिनट रखने के बाद धो लें।