22 OCTTUESDAY2019 1:53:37 AM
Nari

होली में बच्चों की सेफ्टी के लिए अपनाएं ये 8 जरूरी टिप्स

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 19 Mar, 2019 02:18 PM
होली में बच्चों की सेफ्टी के लिए अपनाएं ये 8 जरूरी टिप्स

होली, मौज और मस्‍ती करने का त्‍योहार है। इस मौज मस्‍ती में बड़े से लेकर छोटे बच्‍चे तक सभी शामिल रहते हैं। ऐसे में होली की धमाचौकड़ी में बच्‍चे सबसे आगे रहते हैं। उनकी होली तो सबसे पहले शुरु होती है और सबसे बाद में खत्‍म लेकिन होली खेलने के दौरान कई बार बच्‍चे इस बात का ख्‍याल नहीं रख पाते कि क्‍या करने से उन्‍हें बाद में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इस लिए पेरेंट्स को इस त्‍योहार पर काफी सतर्क रहने की जरूरत होती है ताकि आपका बच्‍चा होली भी खेल ले और उसे इसके साइडइफेक्‍ट्स भी न झेलने पड़े। इसके लिए आपको कुछ खास बातों का ध्‍यान रखना बेहद जरूरी होता है।

 

होली में यूं रखें बच्चों का ख्याल

केमिकल युक्त रंग

बच्चों को होली के रंग देने से पहले जांच ले कि वो केमिकल युक्त न हो। बच्चों को रंगो की एलर्जी से बचाने के लिए हर्बल रंग ही खरीदें। आप चाहें तो कैमिकल युक्त रंगों की बजाए घर में ही बच्चों को ईको फ्रेंडली रंग बनाकर दो सकते है।

 

सरसों का तेल

होली खेलने से पहले ही बच्चों के सिर पर सरसों का तेल और शरीर पर मॉइश्चराइजर क्रीम अच्छी तरह लगा दें। इससे बाद में रंगों को साफ करने में मुश्किल नहीं होती।
 

उनके पास रहें

जब बच्चा होली खेल रहा हो तो आप उनके आस-पास ही रहें। होली खेलते समय ध्यान रखें कि रंग उनकी आंखों और मुंह में न चला जाएं। इसके अलावा होली खेलने के लिए बच्चों को कोई ऐसा कपड़ा पहनाएं, जिससे उसका शरीर ढका रहें।
PunjabKesari


गुब्बारें से होली खेलना

छोटे बच्चों को गुब्बारों में रंग भरकर होली खेलने न दें क्योंकि कई बार गुब्बारा फूटने से बच्चों को चोट भी लग सकती है। इसके अलावा अचानक गुब्बारा फूटने से रंग बच्चे के मुंह और आंखों में भी जा सकता है।

 

गलत चीजों से होली खेलना

कुछ बच्चे मस्ती-मस्ती में होली खेलने के लिए अंडा, मिट्टी, नाले या गंदे पानी का इस्तेमाल करते है। ऐसे में उन्हें ऐसा करने के लिए मना कर दें, ताकि उन्हें किसी भी तरह का इंफेक्शन न हो।
 

जेल वाले कलर का इस्तेमाल

अगर आप होली खेलने के लिए सिंथेटिक कलर का इस्तेमाल करते हैं तो जेल कलर बच्चों के लिए बेस्ट है। यह स्किन को नुकसान भी नहीं पहुंचाता और साफ करने में भी आसान होता है।

PunjabKesari

 

अच्छा व्यवहार सिखाएं

होली की मस्तीद में बच्चे यह भूल जाते हैं कि उनको अपने पडोसियों के साथ कैसा व्यहवहार करना चाहिए। बच्चों को समझाइए कि अगर कोई रंग नहीं खेलना चाहता या बीमार है तो उससे जबरदस्ती न करें।

 

झगड़े से बचें

कई लोगों को होली पसंद नहीं होती या फिर वे किसी कारण से होली नहीं खेलना चाहते, मगर बच्‍चे यह बात नहीं समझते और खेल खेल में उन पर रंग डाल देते हैं। ऐसे में कई बार झगड़ा भी हो जाता है। इससे बचने के लिए बच्‍चों को पहले ही बता दें कि उन्‍हें होली उन्‍हीं के साथ खेलनी हैं जो उनके साथ खेलना चाहे। इससे झगड़े नहीं होंगे क्‍योंकि झगड़ा होने पर बच्‍चों पर बुरा असर पड़ता है और अच्‍छा खासा त्‍योहार खराब हो जाता है। 

PunjabKesari

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News