31 OCTSATURDAY2020 10:52:21 AM
Nari

SSR CASE: शिवसेना का पलटवार- कुत्तों की तरह भौंकने वाले नेता महाराष्ट्र से माफी मांगे

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 06 Oct, 2020 12:01 PM
SSR CASE: शिवसेना का पलटवार- कुत्तों की तरह भौंकने वाले नेता महाराष्ट्र से माफी मांगे

सुशांत सिंह राजपूत केस में रोजाना नए नए मोड़ आ रहे हैं। हाल ही में इस केस में एम्स की रिपोर्ट सामने आई जिसमें हत्या की थ्योरी को पूरी तरह से नकार दिया गया था। वही अब इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद शिवसेना ने इस पर पलटवार करते हुए अपनी राय रखी है। दरअसल बीते दिन यानि सोमवार को शिवसेना ने कहा कि इस मामले में मुंबई पुलिस को बदनाम करने वाले नेताओं और न्‍यूज चैनलों को महाराष्ट्र से माफी मांगनी चाहिए।

PunjabKesari

नेता और समाचार चैनल माफी मांगे : शिवसेना 

दरअसल अपने मुखपत्र ‘सामना' के संपादकीय में शिवसेना ने निशाना साधते हुए कहा,' सुशांत की मौत के मामले में सच की जीत हुई है। इतना ही नहीं संपादकीय में आगे कहा गया, ‘कुत्तों की तरह भौंकने वाले नेता और समाचार चैनल जिन्होंने इस केस में मुंबई पुलिस को बदनाम किया और जांच पर सवाल भी उठाए, उन्हें अब महाराष्ट्र से माफी मांगनी चाहिए।'

महाराष्ट्र की छवि खराब करने की साजिश की गई 

इतना ही नहीं संपादकीय में आगे यह भी आरोप लगाया गया कि इस केस से महाराष्ट्र की छवि को खराब करने की साजिश रची गई। महाराष्ट्र सरकार को इस साजिश में मिले लोगों के खिलाफ मानहानि का मामला दायर करना चाहिए।' शिवसेना ने आगे अपने संपादकीय में कहा ,' अब अंधे भक्त सुशांत की मौत के मामले में एम्स की रिपोर्ट को भी खारिज करेंगे? सुशांत की दुखद मौत को 110 दिन गुजर गए।' 

PunjabKesari

सीएम नीतीश कुमार पर भी लगाया आरोप 

इतना ही नहीं संपादकीय में आगे यह भी कहा गया कि मुंबई पुलिस ने जांच के दौरान आचार नीति का पूरा ध्यान रखा। साथ ही साथ इस केस में गोपनीयता भी बनाई रखी ताकि इस केस में किसी की बदनामी न हो लेकिन वहीं CBI ने अपनी जांच के 24 घंटे के अंदर ही कलाकारों के मादक पदार्थ संबंधी मामले को खोद निकाला। इसमें आगे बिहार के CM नीतीश कुमार पर आरोप लगाते हुए कहा गया कि उन्होंने तथा बिहार के अन्य नेताओं ने इस मुद्दे को इस वजह से उठाया क्योंकि विधानसभा चुनाव के लिए उनके पास प्रचार के लिए कोई और मुद्दा नहीं था। वहीं साथ ही इसमें कंगना पर निशाना साधते हुए कहा गया कि अब वह कहां छिपी हैं। संपादकीय में कहा गया, ‘अभिनेत्री ने हाथरस मामले में दो आंसू भी नहीं बहाए।'

Related News