30 JULFRIDAY2021 1:40:45 AM
Nari

राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्किलें, अब बैंक खातों की होगी फॉरेंसिक जांच- UK से भेजा जाता था पैसा

  • Edited By Anu Malhotra,
  • Updated: 22 Jul, 2021 09:51 AM
राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्किलें, अब बैंक खातों की होगी फॉरेंसिक जांच-  UK से भेजा जाता था पैसा

बाॅलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा अश्लील फिल्में बनाने के आरोप में गिरफ्तार किए गए है। वहीं राज की मुश्किलें अब दिन ब दिन बढ़ती जा रही हैं। बतां दें कि ताजा रिपोर्ट के अनुसार, राज कुंद्रा के खातों की फॉरेंसिंक जांच होगी। इस बात की जानकारी मुंबई क्राइम ब्रांच ने बुधवार को दी है। पुलिस ने बताया कि ब्रिटेन की कंपनी केनरिन प्राइवेट लिमिटेड  कुंद्रा की कंपनी से संबंधित 13 बैंक खातों में पैसे ट्रांसफर करती थी। 

PunjabKesari

राज कुंद्रा और उनकी कंपनियों से जुड़े खातों का होगा फॉरेंसिक ऑडिट 
एक अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, मामले की जांच कर रही मुंबई क्राइम ब्रांच ने जानकारी दी कि केनरिन प्राइवेट लिमिटेड राज कुंद्रा की वियान इंडस्ट्रीज से जुड़े 13 बैंक खातों में पैसा भेज रही थी। इसके बाद ये रकम कुंद्रा के निजी खाते में भेजी जाती थी। उन्होंने बताया कि 'सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस' के नाम पर ये पैसे ट्रांसफर किए जाते थे। अधिकारियों ने बताया कि वे कुंद्रा और उनकी कंपनियों से जुड़े खातों का फॉरेंसिक ऑडिट करेंगे।

PunjabKesari

इस तरह राज कुंद्रा के निजी खाते में आते थे पैसे 
रिपोर्ट में पता लगा है कि ब्रिटेन की कंपनी केनरिन ने साल 2019 में 'हॉटशॉट' ऐप खरीदी थी। इससे पहले यह ऐप आर्म्सप्राइम मीडिया के पास थी। बतां दें कि राज कुंद्रा आर्म्सप्राइम के सह-मालिक थे। 25 हजार डॉलर में ऐप्लीकेशन के बिकने के बाद उन्होंने पद से इस्तीफा दे दिया था।  रिपोर्ट के अनुसार, एक अधिकारी ने बताया कि बिक्री के समय उनका एक समझौता हुआ था कि हॉटशॉट के सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस का काम कुंद्रा की वियान इंडस्ट्रीज देखेगी, इसलिए सॉफ्टवेयर मेंटेनेंस के नाम पर पैसा वियान इंडस्ट्रीज से जुड़े 13 बैंक खातों में भेजा गया था। इसके बाद शेल कंपनियों के जरिए पैसा कुंद्रा के निजी खाते में आ गया था।

PunjabKesari

राज के बहनोई प्रदीप बख्शी के खिलाफ पूरे देश में लुकआउट नोटिस जारी
जांचकर्ताओं ने कहा कि लंदन में रहने वाले कुंद्रा के बहनोई प्रदीप बख्शी को भी FIR में वांछित आरोपी बनाया गया है, साथ ही पूरे देश में उनके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी हो गया है। जानकारी के लिए बतां दें कि फरवरी में इस मामले में 9 लोगों की गिरफ्तारी हुई थी और इसके बाद अप्रैल में चार्जशीट दाखिल हई थी।
 

Related News