21 FEBFRIDAY2020 6:32:55 PM
Nari

World Cancer Day: कैंसर की सबसे बड़ी वजह है मोटापा, महिलाएं रहें सतर्क

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 04 Feb, 2020 02:34 PM
World Cancer Day: कैंसर की सबसे बड़ी वजह है मोटापा, महिलाएं रहें सतर्क

भारत समेत दुनियाभर के कई देशों में कैंसर के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है, जिसका सबसे बड़ा कारण गलत लाइफस्टाइल व मोटापा है। जी हां, मोटापा सिर्फ पर्सनैलिटी ही खराब नहीं करता बल्कि इससे 13 तरह के कैंसर का खतरा भी रहता है। ऐसा हम नहीं बल्कि हाल ही में हुए शोध का कहना है।

PunjabKesari

इसी सिलसिले में लोगों को कैंसर के प्रति जागरूक करने के लिए हर साल 4 फरवरी के दिन वर्ल्ड कैंसर डे मनाया जाता है। चलिए आपको बताते हैं कि मोटापे व कैंसर का क्या है क्नैक्शन...

कैंसर का खतरा कैसे बढ़ाता है मोटापा

दरअसल, मोटापे का कनेक्शन फैट सेल्स से होता है। जैसे-जैसे शरीर में फैट सेल्स बढ़ते हैं वैसे ही ब्रीदिंग धीमी, मेटाबॉलिज्म लेवल में बदलाव, इंसुलिन तेजी से बढ़ना और हॉर्मोन्स गड़बड़ाने जैसी समस्याएं होने लगती है, जिसकी वजह से कैंसर का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। मोटापे से जुड़ा कैंसर रिस्क हाल के सालों में करीब 40% बढ़ गया है। इतना ही नहीं, अगर आप ओवरवेट हैं तो आपको एक नहीं बल्कि 13 तरह का कैंसर होने का खतरा रहता है।

पुरुषों में स्तन कैंसर

वहीं शोधकर्ताओं ने बताया कि पुरुषों में होने वाले ब्रेस्ट कैंसर के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं, जिसका एक कराण मोटापा भी है। हालांकि पुरूषों के मुकाबले महिलाएं इससे अधिक प्रभावित होती हैं। मोटापे के कारण पुरूषों व महिलाओं में एस्ट्रोजन और टेस्टोस्टेरोन हार्मोन का स्तर बिगड़ जाता है, जो कैंसर के रिस्क को बढ़ाता है।

PunjabKesari

महिलाएं रहें सतर्क

मोटापा आतों के कैंसर, फूड पाइप, बड़ी आंत,मलाशय, स्तन कैंसर (माहवारी बंद होने के बाद) और पैन्क्रियाज कैंसर का जोखिम बढ़ाता है। वहीं इससे महिलाएं बच्चेदानी, किडनी, थायराइड और गॉलब्लैडर की चपेट में भी आ रहीं है।

मोटापे से बढ़ता है 13 तरह के कैंसर का रिस्क

रिसर्च में करीब 60 लोगों की जांच की गई जिनमें मोटापे की वजह से 13 अलग-अलग तरह के कैंसर पाए गए हैं। उन्होंने पाया कि बढ़े हुए वजन के कारण ब्रेन कैंसर, ब्रेस्ट कैंसर, थायरॉइड कैंसर, गॉल ब्लाडर कैंसर, पेट का कैंसर, लिवर कैंसर, पैनक्रियाज कैंसर, कोलोन कैंसर, यूट्रस कैंसर, ओवरीज कैंसर आदि जैसे कैंसर का खतरा रहता है। मोटापे के अलावा स्मोकिंग भी कैंसर बढ़ाने वाला एक अहम कारक है।

PunjabKesari

दो-तिहाई आबादी है मोटापे से परेशान

गलत लाइफस्टाइल, एक्सरसाइज ना करना और खराब खान-पान के कारण बढ़ा हुआ वजन आजकल आम समस्या बन गया है। दुनिया की करीब-करीब दो तिहाई आबादी मोटापे की समस्या से जूझ रही है, जिसमें युवाओं के साथ-साथ बच्चों में भी मोटापे की समस्या तेजी से बढ़ रही है।

क्या वजन कम करने से नहीं होगा कैंसर?

मोटापा की वजह से कैंसर होने की आशंका भी बढ़ जाती है। हालांकि ऐसा नहीं है कि मोटापा कम होने से इसका खतरा कम हो जाए क्योंकि कैंसर का खतरा कई दूसरे फैक्टर्स पर भी निर्भर करता है, जिसमें प्रदूषण, गलत खान-पान, स्मोकिंग, शराब पीना, तंबाकू और केमिकली प्रोसेस्ड फूड प्रॉडक्ट का सेवन आदि भी शामिल हैं। मगर हां, वजन कंट्रोल और लाइफस्टाइल में थोड़ा-सा सुधार करके इसे खतरे को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

PunjabKesari

मोटापा कम करने की कुछ आसान ट्रिक्स

. दिनभर में कम से कम 3-4 लीटर पानी पिएं और लिक्विड डाइट अधिक लें।
. एक बार में भर पेट खाने की बजाए 5-6 छोटे-छोटे मील्स लें।
. भोजन के बाद कम से कम 15-20 मिनट सैर करें।
. जंक फूड्स, चॉकलेट, केक, टॉफी और आइस्‍क्रीम आदि का सेवन करने से बचे।
. वजन कंट्रोल करना चाहते हैं तो मीठी चीजें व शुगरी फूड्स से दूरी बनाएं।
. गर आप नींद पूरी नहीं लेते तो कसरत व डाइटिंग का भी कोई फायदा नहीं होगा। वजन घटाने के लिए 8-9 घंटे की नींद जरूरी है।
. हफ्ते में कम से कम 150 मिनट व्यायाम करएं। शुरूआत में आप हल्की-फुल्की एक्सरसाइज कर सकते हैं।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News