Twitter
You are hereNari

स्मोकिंग ही नहीं, इन 5 कारणों से भी हो सकता है लंग कैंसर

स्मोकिंग ही नहीं, इन 5 कारणों से भी हो सकता है लंग कैंसर
Views:- Thursday, November 9, 2017-5:09 PM

फेफड़े का कैंसर : अधिकतर लोग स्मोंकिग को ही लंग कैसर का कारण मानते है लेकिन स्मोकिंग न करने वाले लोग भी लंग कैंसर जैसी खरतनाक बीमारियों की चपेट में आ रहें है। लंग कैंसर के कारण पता होने पर थोड़ी सी सावधानी से आप इस खतरनाक बीमारी से बच सकते है। आइए जानते है लंग कैंसर के कारण।   ये 6 लक्षण करते हैं लंग कैंसर की ओर इशारा


 

1. एस्बेस्टोस फाइबर
घरों और दुकानों की छतों में इस्तेमाल होने वाला यह फाइबर सांस के जरिए शरीर में प्रवेश करके कैंसर का कारण बनता है।

 

2. कारखाने
कोयले, आर्सेनिक या न्यूज पेपर प्रिंटिंग में काम करवाले लोगों को भी लंग कैंसर का खतरा हो सकता है। ऐसे कारखाने में सावधानी के साथ काम करने साथ समय-समय पर चैकअप भी करवाते रहना चाहिए।

 

3. लंग फाइब्रोसिस
फेफड़ों के लाइलाज रोगों में से एक लंग फाइब्रोसिस बीमारी से ग्रस्त लोगों को लंग कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी हो सकती है। लंग कैंसर से बचे रहना हैं तो खाएं ये आयुर्वेदिक हर्ब्स - Nari

 

4. क्रॉनिक ब्रॉन्काइटिस
धूल, धुआं, गर्द और प्रदूषित वातावरण के कारण होने वाली इस बीमारी से ग्रस्त लोगों में लंग कैंसर का खतरा बढ़ा जाता है। इस बीमारी के होने पर आपको हमेशा प्रदूषण से दूर रहना चाहिए।

 

5. जेनेटिक
परिवार के किसी एक सदस्य में यह बीमारी होने पर सावधानी बरतनी चाहिए। क्योंकि यह बीमारी एक सदस्य से दूसरे सदस्य को हो सकती है।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by: