20 MARWEDNESDAY2019 9:38:55 PM
Nari

नींद की कमी और मानसिक तनाव भी है माइग्रेन का कारण, ऐसे करें उपचार

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 02 Mar, 2019 11:56 AM
नींद की कमी और मानसिक तनाव भी है माइग्रेन का कारण, ऐसे करें उपचार

माइग्रेन एक ऐसा रोग है, जिसमें रह-रह कर सिर में दर्द होता है। आमतौर पर यह सिरदर्द सिर के एक हिस्से को प्रभावित करता है और दर्द 2 से लेकर 72 घंटे तक बना रहता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि नींद की कमी और मानसिक तनाव के कारण यह दर्द बार-बार उठता है। जी हां, हाल में हुए शोध के अनुसा कम नींद लेना और मानसिर विकार जैसे टेंशन तनाव, डिप्रेशन भी माइग्रेन का खतरा बढ़ाते हैं।

 

नींद की कमी है माइग्रेन का कारण

शोध के अनुसार, मस्तिष्क में रासयनिक प्रतिक्रिया के फलस्वरूप रक्त वहिनियों में परिवर्तन को माइग्रेन की मुख्य वजह माना जाता है, जिसका कारण काफी हद तक नींद की कमी और मानसिक तनाव है। माइग्रेन दर्द दो तरह के होते हैं। पहला प्राइमरी हैडेक माइग्रेन, जो टेंशन और टाइप हैडेक (तनाव से सिरदर्द) आदि के कारण होता है। दूसरा सेकेंडरी हैडेक माइग्रेन, जिसका कारण ब्रेन ट्यूमर, ब्रेन हैमरेज और दिमागी बुखार आदि है।

PunjabKesari

कैसे बढ़ता है यह रोग?

खान-पान, हार्मोंस व मौसम में बदलाव, नींद की कमी और मानसिक तनाव, माइग्रेन को बढ़ाते हैं। अलग-अलग लोगों में इसकी वजह भिन्न-भिन्न हो सकती है। इसके इलाज के लिए सबसे पहले वजह जानना जरूरी है।

 

माइग्रेन के लक्षण

भूख कम लगना
पसीना अधिक आना
कमजोरी मसूस होना
आंखों में दर्द या धुंधला दिखाई देना
पूरे या आधे सिर में तेज दर्द
तेज आवाज या रोशनी से घबराहट
उल्टी आना या जी मचलाना
किसी काम में मन न लगना

PunjabKesari

महिलाएं को है अधिक खतरा

पुरूषों की तुलना में महिलाएं इसकी अधिक शिकार हो रहा हैं, जिसका कारण दोहरी जिंदगी और कुछ हार्मोनल इंबैल्स हो सकते हैं। साथ ही महिलाएं अक्सर छोटी-छोटी बात पर भी अधिक टेंशन ले लेती हैं तो भी, जो उन्हें माइग्रेन का शिकार बना देती हैं। महिलाओं के साथ-साथ बच्चों भी इसका तेजी से शिकार हो रहे हैं। हालांकि उनका माइग्रेन बड़ों से अलग होता है। माइग्रेन शुरू होने से पहले बच्चों को भूख नहीं लगती, चिड़चिड़ापन, बार-बार उबासी आना, आलस व मूड में बदलाव जैसे लक्षण हो सकते हैं।

 

घरेलू उपचार
ऑलिव ऑयल से लें भाप

अचानक माइग्रेन का दर्द होने पर एक बर्तन या स्टीमर में पानी उबाल उसमें ऑलिव ऑयल डालकर मिक्स करें। अब सिर को टॉवल से ढककर भाप लें। 15-20 मिनट तक भाप लेने के बाद दर्द गायब हो जाएगा।

PunjabKesari

देसी घी का इस्तेमाल

माइग्रेन दर्द से छुटकारा पाने के लिए इसकी 2 बूदों को नाक में डालें और लेट जाएं। इससे नासिका की सफाई होगी और आपको माइग्रेन दर्द से तुरंत आराम मिल जाएगा।

 

मेहंदी का लेप

मेहंदी का लेप लगाकर सिर पर लगाएं। इससे कुछ देर में ही आपका माइग्रेन दर्द दूर भाग जाएगा।

PunjabKesari

तुलसी के पत्ते

तुलसी के पत्ते, अदरक का पाउडर, पिसी काली मिर्च और दालचीनी पाउडर के मिक्स करके शहद के साथ खाने से माइग्रेन के दर्द में आराम मिलता है।

 

लौंग पाउडर 

अगर सिर में ज्यादा दर्द हो रहा है तो तुरंत लौंग पाउडर और नमक मिलाकर दूध के साथ मिलाकर पिएं। ऐसा करने से सिर का दर्द झट से गायब हो जाएगा।

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News

From The Web

ad