20 APRSATURDAY2024 1:27:22 PM
Nari

कौन हैं Jaya Kishori जिन्हें मिला ‘आधुनिक युग की मीरा’ का दर्जा

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 28 Mar, 2024 12:18 PM
कौन हैं Jaya Kishori जिन्हें मिला ‘आधुनिक युग की मीरा’ का दर्जा

हमारे देश भारत में लोग आस्था से बहुत गहराई से जुड़े हैं। ये ही वजह है कि यहां पर कई सारे आस्था से जुड़े गुरू और साध्वी भी हैं, जिन पर लोग अट्टू भरोसा करते हैं और उनके बताए राह पर चलते हैं। जया किशोरी भी इन्हीं में से एक नाम है, जो इन दिनों हर किसी की जुबान पर है। ये भारत की प्रसिद्ध कथावाचिक, भजन गायिका और मोटेवेशनल स्पीकर हैं। इन्होंने आस्था से जुड़ा अपना  करियर महज 6 साल की उम्र में शुरू किया था। उन्होंने देश की लगभग हर कोने में कथाएं की है। उनके भक्त इतने ज्यादा है कि जहां पर भी वो जाती हैं भारी संख्या में भीड़ उमड़ती है। उनकी मधुर आवाज का भी हर कोई दीवाना है। सोशल मीडिया पर भी वो काफी एक्टिव हैं, हालांकि उनकी पर्सनल लाइफ से जुड़े पहलू बहुत ही कम लोगों को पता है। हर कोई जानना चाहता है कि जया की सफलता का राज क्या है? आइए हम आपको बताते हैं इसके बारे में विस्तार से...

PunjabKesari

 जया ने बताया अपनी सफलता का राज

अपनी सफलता के बारे में बात करते हुए जया ने कहा कि उन्होंने बहुत मेहनत की है। इसके साथ ही उन्होंने बहुत धैर्य भी रखा। उन्होंने महज 6 साल की उम्र में काम शुरू कर दिया था। इसके बाद उन्हें काफी समय लगा, फिर सफलता उनके हाथ लगी है। साध्वी का कहना है कि अगर आप सफलता चाहते हैं तो टाइम दीजिए। आप जितनी मेहनत करेंगे वो आपके पास जरूर वापस आएगी। ये मैं अपने अनुभवों से कह रही हूं।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Jaya Sharma (@iamjayakishori)

ब्राह्मण परिवार में जन्म

जया किशोरी का जन्म 13 जुलाई 1995 में कोलकाता के ब्राह्मण परिवार में हुआ था। उनका असल नाम जया शर्मा है। उन्हें किशोरी की उपाधि गई हैं, इसलिए वो अपने नाम के साथ इसे इस्तेमाल करती हैं।  वो  ज्यादातर श्रीमद् भागवत कथा और नानी बाई रो मायरा पर आधारित कथाएं करती हैं। उनका भजन और आवाज बचपन से ही अच्छी थी, इसलिए उन्होंने इस ओर ही मेहनत की। जया के दादा- दादी भी उन्हें भजन गाना सिखाते थे। अब उन्हें  ‘आधुनिक युग की मीरा’ के नाम से भी जाना जाता है।

12वीं की पढ़ाई के दौरान ही श्रीमद्भागवत कथा कर ली थी कंठस्थ 

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो जया किशोरी ने अपनी शिक्षा कोलकाता के श्री शिक्षातन कॉलेज और महादेव बिड़ला वर्ल्ड एकेडमी से की है। उन्होंने ओपन स्कूल से बीकॉम किया है। 12 वीं की पढ़ाई करते हुए ही उन्होंने  श्रीमद्भागवत कथा अच्छे से कंठस्थ कर ली थी। इसके साथ ही वो भजन गीता का पाठ भी करती हैं।

PunjabKesari

जया किशोरी की नेट वर्थ

अपने मेहनत के बल पर आज वो फेमस तो हैं ही, साथ ही वो काफी अमीर भी हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक श्रीमद्भागवत के वाचन के लिए वह 9 लाख 50 हजार रुपये फीस लेती हैं। खास बात ये है कि उनकी फीस का एक बड़ा हिस्सा नारायण सेवा संस्थान को दान कर दिया जाता है। यह संस्था दिव्यांगों के लिए काम करती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, उनकी नेटवर्थ 1.5 से 2 करोड़ रुपये है।  इसके अलावा जया किशोरी यूट्यूब वीडियो, मोटिवेशनल स्पीच, एल्बम से भी कमाई करती हैं।

PunjabKesari

मिल चुके हैं कई पुरस्कार

 उनके एक कार्यक्रम का नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है। वर्ष 2018 में किशोरी की श्रीमद् भागवत कथा का सामूहिक निमंत्रण देने वाले संजय शुक्ला व अंजलि शुक्ला ने घर-घर जाकर महिलाओं को 1,11,000 साड़ियां भेंट की, जो गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हो गई।

Related News