Twitter
You are hereNari

याद्दाश्त तेज करता है रोजाना कुछ देर का मौन, मिलते कई हैं फायदे

याद्दाश्त तेज करता है रोजाना कुछ देर का मौन, मिलते कई हैं फायदे
Views:- Wednesday, December 26, 2018-1:49 PM

ध्वनि प्रदूषण एक बहुत बड़ी समस्या है जो लोगों की सेहत पर बूरी असर डालता है। काफी समय तक तेज आवाज में रहने से सेहत संबंधी कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। इससे ना केवल शारीरिक बल्कि मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे बचने के लिए दिन में कम से कम 15 मिनट का मौन रखना बहुत जरूरी होता है। इससे सेहत को फायदा मिलता है। 

मौन रखने के फायदे

कुछ देर के लिए मौन और एकांत हमारे शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य के लिए बहुत ही अच्छा होता है। तो आइये जानते हैं कि चुप रहने से क्या फायदे मिलते हैं 

PunjabKesari

दिमाग में नई कोशिकाएं बनती हैं

रोजाना कुछ देर तक मौन रहने से दिमाग विकसित होता है इसलिए हमें हर दिन कम से कम 15 मिनट तक मौन रहकर ध्यान करना चाहिए। इससे दिमाग में नई कोशिकाएं बनती हैं। ये सीखने और याद रखने की शक्ति को बढ़ाता हैं।

तनाव होता है कम 

ज्यादा शोर हमारे अंदर चिंता को बढ़ा देता है। शांत बैठने से तनाव का स्तर कम होता है। मौन बैठते से मानसिक सेहत को फायदा मिलता होता है।

PunjabKesari

मेमोरी के लिए

अकेले पार्क में टहलने से हिप्पोकैम्पस में मस्तिष्क की वृद्धि हो सकती है, यानि मानव के मस्तिष्क का एक प्रमुख घटक जो मेमोरी से जुड़ा हुआ है उसकी वृद्धि होना। जिससे मेमोरी अच्छी हो सकती है। 

अनिद्रा को करे दूर

रोजाना कुछ देर शांत बैठने से इन्सोम्निया यानी कि अनिद्रा की कमी दूर होती है। साथ ही आप कई बीमारियों से बचे रहते हैं।

ब्लड प्रेशर कंट्रोल

ब्लड प्रेशर मरीज के लिए रोजाना कुछ देर के लिए मौन रखना बहुत ही फायदेमंद होता है। इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल होता है।

हृदय के लिए लाभकारी

साइलेंस दिल के लिए बहुत ही अच्छा होता है। ज्यादा आवाज रक्तचाप और हृदय के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। दिन में  कम से कम 15 मिनट मौन रखना फायदेमंद होता है।


PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by: