29 NOVMONDAY2021 4:44:31 AM
Nari

शरद पूर्णिमा पर करना ना भूलें ये उपाय, मिलेगा निरोगी काया और धन-संपदा

  • Edited By neetu,
  • Updated: 19 Oct, 2021 09:54 AM
शरद पूर्णिमा पर करना ना भूलें ये उपाय, मिलेगा निरोगी काया और धन-संपदा

हिंदू धर्म में व्रत-त्योहारों की शरद पूर्णिमा तिथि का भी विशेष महत्व है। इस जागृत पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। इस बार यह शुभ दिन 19 अक्तूबर यानि आज पड़ रही है। पौराणिक कथाओं अनुसार, इस शुभ दिन को धन की देवी लक्ष्मी मां का समुद्र से आभिर्भाव हुआ था। इसके साथ ही इस दिन चंद्रमा अपनी 16 कलाओं में आते हैं। ऐसे में शरद पूर्णिमा के दिन चंद्रमा और मां लक्ष्मी की पूजा करने का विधान है। मान्यता है कि इस दिन कुछ खास उपाय करना शुभ होता है। इससे घर में अन्न व धन की बरकत होती है। चलिए जानते हैं ज्योतिष व वास्तु से जुड़े कुछ विशेष उपाय...

धन-धान्य की प्राप्ति के लिए

शरद पूर्णिमा के पावन दिन को धन की देवी लक्ष्मी का जन्मदिन माना जाता है। मान्यता है कि इस रात जागरण और देवी लक्ष्मी के मंत्रों का जाप करने से धन प्राप्ति के अवसर मिलते हैं।

PunjabKesari

मनचाहा वर पाने के लिए

शरद पूर्णिमा को कुमार पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है। इस दिन कार्तिकेय भगवान की पूजा करने का विशेष महत्व है। मान्यता है कि कुंवारी कन्याओं द्वारा भगवान कार्तिकेय की पूजा करने से उन्हें मनचाहा साथी मिलता है।

चंद्रदोष से मुक्ति का उपाय

शरद पूर्णिमा के दिन छत या गैलरी पर चांदी के बर्तन में दूध या खीर डालकर चंद्रमा के प्रकाश में रखें। फिर उस दूध भगवान को चढ़ाकर पिएं। मान्यता है कि इससे चंद्रदोष से मुक्ति मिलती है। साथ ही रोगप्रतिरोधक क्षमता तेज होती है।

PunjabKesari

चंद्रमा की रोशनी में बैठे

आयुर्वेद अनुसार शरद पूर्णिमा की रात चंद्रमा की रोशनी अमृत समान मानी जाती है। इसलिए इस रात चंद्र दर्शन करने और चंद्रमा को एकटक देखने से आंखों संबंधी समस्याएं दूर होती है। इसके साथ चद्रमा की रोशनी पर बैठने से सांस संबंधी बीमारियों में भी फायदेमंद माना जाता है।

आर्थिक स्थिति मजबूत करने के लिए

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, पूर्णिमा के दिन पीपल वृक्ष में देवी लक्ष्मी का आगमन होता है। इसलिए देवी मां की कृपा पाने के लिए आज के दिन पीपल वृक्ष पर कुछ मीठा चढ़ाएं।

PunjabKesari

दांपत्य जीवन में मिठास लाने के लिए

पूर्णिमा की रात पति-पत्नी मिलकर चंद्र देव को दूध का अर्घ्य दें। माना जाता है कि ऐसा करने से दांपत्य जीवन में चल रही परेशानियां दूर होती है। साथ ही रिश्ते में मिठास आती है।

घर की सुख-समृद्धि के लिए

इस शुभ दिन पर विष्णु-लक्ष्मी में जाकर भगवान जी को इत्र और सुगन्धित अगरबत्ती अर्पित करें। फिर धन की देवी लक्ष्मी जी से घर में स्थाई रूप से वास करने की प्रार्थना करें। मान्यता है कि इससे देवी लक्ष्मी की असीम कृपा मिलती है। साथ ही घर में सुख-समृद्धि, शांति व खुशहाली बनी रहती है।

 

Related News