25 OCTSUNDAY2020 11:18:51 PM
Nari

आंखों की ढीली पड़ी स्किन का कारण है आपकी ये 5 गलतियां

  • Edited By Sunita Rajput,
  • Updated: 14 Feb, 2020 11:42 AM
आंखों की ढीली पड़ी स्किन का कारण है आपकी ये 5 गलतियां

उम्र चाहे जो भी हो हर महिला जवां और सुंदर दिखना चाहती है। ऐसे में कई महिलाओं के चेहरे पर समय से पहले ही बुढ़ापे के लक्षण दिखाई देने लगते है। ये  खासतौर पर आंखों के आस-पास की स्किन पर दिखते है। असल में,  आंखों के आसपास की त्वचा बहुत पतली और सेंसिटिव होती है। वैसे तो बुढ़ापा एक दिन सभी को आएगा इससे बचा नहीं जा सकता है। मगर समय से पहले इशेक लक्षण दिखाई देने के पीछे आपके द्वारा की कई कुछ गलतियां होती है। तो चलिए आज हम आपको आपकी उन  5 गलतियों के बारे में बताते है, जो आपके आंखों के इर्द- गिर्द की स्किन को ढीला करने के साथ फाइन लाइन्स और झुर्रियों के होने का कारण बनती हैं।

आंखों को बार-बार मसलना

आंखों के आसपास की स्किन सबसे ज्याद पतली और सेंसिटिव होती है। ऐसे में इसे बार-बार मसलने या रगड़ने से त्वचा ढीली होने लगती है। इसके साथ ही स्किन ढीली पड़ने लगती है जिसके कारण झुर्रियां और फाइन लाइन्स दिखाई देने लगती है। इसके अलावा मुंह और नाक के जैसै आंखों से भी हमारे शरीर में वायरस और बैक्टीरिया आसानी से प्रवेश करते है।  इसलिए हाथों से बार-बार आंखों के आसपास की त्वचा को मसलना या रगड़ना नहीं चाहिए। 

Image result for rubbing eye pic,nari

सही मेकअप को न चुनना

स्किन के हिसाब से सही मेकअप प्रोडक्ट्स इस्तेमाल न करने से भी त्वचा के ढीली पड़ने की समस्या होती है। आंखों के आसपास की स्किन ज्यादा पतली और सेंसिटिव होने से केमिकल युक्त प्रोडक्ट्स का  उसपर गहरा और गलत प्रभाव पड़ता है। इसलिए ऐसी चीजों का आंखों के आसपास इस्तेमाल करने से बचे। नहीं तो इससे समय से पहले ही आंखों के आसपास बुढ़ापे के लक्षण नजर आने लगेगे। ऐसे में आंखों और चेहरे के लिए नैचुरल और ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करें।

Image result for makeup applying girl pic,nari

मॉइश्चराइजर न लगाना

स्किन को पूरी तरह पोषण और नमी न मिलने के कारण भी झुर्रियां, फाइन लाइन्स की समस्या का सामना करना पड़ता है जो त्वचा ढीली हो जाने का मुख्य कारण बनता है। ऐसे में इस परेशानी से बचने के लिए दिन में 2-3 बार चेहरे और शरीर के बाकी खुले हिस्सों पर मॉइश्चराइजर लगाना न भूलें। यह आपकी स्किन को प्राकृतिक नमी पहुंचाती है जिससे त्वचा हाइड्रेट रहती है। आप आंखों के इर्द-गिर्द की स्किन को हाइड्रेट करने के लिए स्पेशल आई क्रीम्स का भी यूज कर सकती हैं। बस इसे खरीदते समय यह ध्यान रखें कि इसमें विटामिन्स B, K, C और हाइड्रॉलिक एसिड जरूर होना चाहिए। 

सब्जियों और फलों का सेवन कम करना

सेहत और स्किन को जवां और खूबसूरत बनाएं रखने के लिए जरूरी है अच्छी डाइट लेना। ऐसे मे अगर आप सिर्फ ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल कर खुद को सुंदर बनाने की सोचती है तो यह गलत है। ज्यादा कैमिकल वाले प्रोडक्ट यूज कर स्किन के जल्दी खराब  होने के चांसिस बढ़ते है। इसलिए नैचुरल ब्यूटी पाने के लिए जरूरी है कि सही और पौष्टिक आहार लेना। जंक फूड्स को खाने की आदत छोड़ ज्यादा से ज्यादा फलों और सब्जियों को  अपनी डाइट में शामिल करें। इनमें भारी मात्रा में एंटी- ऑक्सीडेंट्स, विटामिन, फाइबर, मिनरल्स और कई सारे पोषक तत्व होते है जो डेड स्किन को रिमूव कर नए स्किन सेल्स को बनाने में मदद करते है। ये चेहरे की ढीली पड़ी स्किन को टाइट करने केसाथ चेहरे पर ग्लो बरकरार रखने में हैल्प करता है। इसके साथ ही टिशूज को रिपेयर करने और त्वचा को फ्री रेडिकल्स से बचाने में फायदेमंद होती है। 

Image result for salad eating girl pic,nari

सनस्क्रीन यूज न करना

सूरज की धूप के कारण निकलने वाली अल्ट्रावायलेट किरणें जब हमारे चेहरे पर पड़ती है तो इसका इसर सबसे पहले हमारे आंखों के आसपास की पतली त्वचा को खराबकरने का काम करती है। इस जगह की स्किन ज्यादा सॉफ्ट और पतली होने के कारण ये तेज किरणों त्वचा के अंदर चली जाती है जिसके कारण जलन का एहसास भी होता है। ऐसे में सर्दी हो या गर्मी घर से बाहर निकलने से 30 मिनट पहले 15-20 एसपीएफ का सनस्क्रीन जरूर लगाए। इसके अलावा  ज्यादा तेज धूप होने पर चेहरे को अच्छी तरहढक कर या सनग्लासेज पहन कर कहीं जाए। 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News