Twitter
You are herehealth

रोजाना पीएंगे 8-10 गिलास पानी तो नहीं होगा सर्दी-जुकाम

रोजाना पीएंगे 8-10 गिलास पानी तो नहीं होगा सर्दी-जुकाम
Views:- Tuesday, September 11, 2018-3:25 PM

मौसम के बदलते ही जुकाम-बुखार होना एक आम समस्या है। मानसून के बाद एकदम तापमान में बदलाव आने के कारण वायरल बुखार और संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा होता है। वैसे तो वायरल का सर्दी बुखार एक हफ्ते में ठीक हो जाता है लेकिन आपकी कुछ गलतियों के कारण यह कई बार जल्दी ठीक नही होता और लंबे समय तक बना रहता है। वायरल बुखार या जुकाम होने पर कुछ बातों को ध्यान में रखकर आप जल्द ही तंदरुस्त हो सकती हैं। आइए जानते हैं कि वायरल बुखार या जुकाम होने पर किन 4 चीजों से बचाव जरूरी है।

1. शरीर में न होने दे पानी की कमी
वायरल होने पर शरीर में पानी की कमी न होने दें। दिन में कम से कम 8 गिलास पानी जरूर पीएं। आप जूस भी ले सकते हैं। 

PunjabKesari

2. एयर कंडीशनर में सोना
आमतौर पर मौसम बदलने के बावजूद भी कई लोग ए. सी. का प्रयोग करते हैं। मौसम बदलने के दौरान सवेरे शाम थोड़ी-थोड़ी ठंड हो जाती है। ऐसे में ए.सी. में सोने से शरीर का तापमान काफी कम हो जाता है जिससे नाक और गला खराब होने के चांस बढ़ जाते हैं। आपको ठंड से बुखार भी हो सकता है।

3.साफ-सफाई का ध्यान न रखना
वायरल बुखार होने का सबसे बड़ा कारण सफाई पर ध्यान न देना है। मौसम बदलते ही बैक्टिरिया ज्यादा एक्टिव हो जाते है इसलिए अपने आस-पास की सफाई का ख्याल रखना बहुत जरूरी है। 

4. खांसने-छींकने के बाद कपड़ों से पोंछ लेना
वायरल बुखार होने पर छींकते समय मुंह पर रूमाल रखना बहुत जरुरी होता है नहीं तो आपके साथ-साथ घर के बाकी लोगों को भी वायरल इंफेक्शन का खतरा हो जाता है।इस मौसम में हवा में मौजूद वायरस एक-दूसरे में सांस के जरिए, छींकने से या खांसने से फैलता है। इसे रेस्पिरिटरी इन्फेक्शन का वायरस कहते हैं।
PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
Edited by: