26 MARTUESDAY2019 11:43:45 PM
Nari

हरियाली से तेज करें बच्चे की कमजोर याददाश्त -Nari

  • Edited By Nisha thakur,
  • Updated: 14 Sep, 2018 06:35 PM
हरियाली से तेज करें बच्चे की कमजोर याददाश्त -Nari

कुछ बच्चों का दिमाग बहुत ज्यादा शार्प होता है। उनको कोई भी चीज बड़ी आसानी से याद हो जाती है। वहीं दूसरी ओर कई बच्चे एेसे होते हैं जिनकी याददाश्त बहुत कमजोर होती है। इस वजह से वह अक्सर पढ़ाई-लिखाई के मामले में पीछे रह जाते हैं। एेसे में बच्चों की याददाश्त बढ़ाने के लिए उनको हरियाली वाली जगह पर बैठ कर पढ़ाना शुरू करें। हरे-भरे और पेड़-पौधों वाले इलाकों का असर बच्चों की याददाश्त पर भी पड़ता है एेसा एक रिसर्च में सामने आया है। 

 

क्या कहती है रिसर्च ?

PunjabKesari
ब्रिटेन के यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन में एक रिसर्च की गई। इस शोध में पाया गया कि पर्यावरण हमारी याददाश्त पर बहुत गहरा असर डालता है। यह हमारी एकाग्रता को भंग नहीं होने देता। जब बच्चे या बड़े किसी पेड़-पौधों वाली जगह पर बैठकर पढ़ाई करते हैं तो उनको वह ज्यादा देर तक याद रहता है। खासतौर पर गणित विषय पर इसका सबसे ज्यादा असर पड़ता है, जिसमें ढेर सारे फॉर्मूलों को याद करने की जरूरत पड़ती है। 

 

शोधकर्ता फ्लोरि कहती है, 'हमारे अध्ययन सिर्फ बच्चों के बेहतर विकास ही नहीं बल्कि पर्यावरण के लिए भी अच्छा है। सिर्फ प्रशासन को ही नहीं, नागरिकों को भी इस विषय पर सोचना चाहिए और पौधे लगाने चाहिए। आखिरकार यह आपके बच्चों के भविष्य का सवाल है।' 

PunjabKesari

अध्ययन में इतने लोग थे शामिल 

इस अध्ययन में इंग्लैंड शहर के 11 साल के 4,758 बच्चों को शामिल किया है। इसमें उनकी याददाश्त के स्तर का पता लगाया है। इस रिसर्च में यह बात सामने आई है कि बच्चों और हरियाली का उनकी याददाश्त से गहरा संबंध होता है। जिन बच्चों के घर के आस-पास पेड़-पौधे होते हैं उनकी याददाश्त दूसरे बच्चों की तुलना में बेहतर होती है। 

फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP

Related News

From The Web

ad