Twitter
You are hereNari

मोटापे के कारण पति ने छोड़ा था साथ, आज वही हैं बॉडी बिल्डिंग चैंपियन

मोटापे के कारण पति ने छोड़ा था साथ, आज वही हैं बॉडी बिल्डिंग चैंपियन
Views:- Sunday, October 7, 2018-12:57 PM

समाज में आज भी लड़कियों की खूबसूरती को रूप, रंग या शारीरिक बनावट के हिसाब से देखा जाता है। इस बात खामियाजा कई महिलाओं को शादी के बाद भी भुगतना पड़ता है। ऐसा ही कुछ हुआ है तमिलनाडु की रूबी के साथ। दरअसल, मोटापे के कारण रूबी के पति ने उनका साथ छोड़ दिया लेकिन इसके बावजूद भी उन्होंने हार नहीं मानी और खुद को फिट करके देश के लिए मेडल जीते। उन्होंने वो कर दिखाया है जो तमाम महिलाओं के लिए मिसाल है।

 

आसान नहीं था रूबी का सफर
पति के साथ छोड़ जाने के बाद रूबी का सफर काफी मुश्किलों भरा लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। उन्होंने बताया कि मेरे पति ने मुझसे कहा था कि उनकी रुचि मुझमें खत्म हो रही है क्योंकि मेरा वजन काफी बढ़ गया है। इस बात से मुझे काफी तकलीफ पहुंची। तभी से मैंने ठान लिया था कि मैं अपनी फिटनेस पर ध्यान दूंगी। मैंने वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज शुरू कर दी। हालांकि ऐसा काफी मुश्किल था क्योंकि मेरा 6 साल का एक छोटा बेटा भी है। लेकिन मैं ऐसा कर पाई क्योंकि मैंने अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया था।

PunjabKesari

नेशनल लेवल पर जीत चुकी हैं मेडल
रूबी के पास ज्यादा पेसे नहीं थे और बॉडी बनाने के लिए उन्हें काफी महंगे सप्लीमेंट्स की जरूरत थी। मगर उन्होंने सिर्फ जुंबा क्लास के जरिए इस मुश्किल को भी दूर कर लिया। रूबी ने कड़ी मेहनत की और फिटनेस चैंपियन बन गई, जिसके बाद उन्होंने असम और केरल के बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में नेशनल लेवल पर मेडल जीते।

PunjabKesari

महिलाओं को दिया यह संदेश
रूबी का कहना है, 'मैं देश की तमाम लड़कियों और महिलाओं को यह संदेश देना चाहती हूं कि वे कुछ भी कर सकती हैं।' आपको बता दें कि वह तमिलनाडु की बॉडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लेने वाली पहली महिला है। रूबी के कोच का कहना है कि वह अपनी फिटनेस से मिस इंडिया का खिताब भी अपने नाम कर सकती हैं। उनका कहना है कि उन्होंने आज तक रूबी जैसी महिला नहीं देखी, जो फिट रहने के लिए इतनी मेहनत करती हो।

PunjabKesari


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP
Edited by: