20 MAYMONDAY2024 10:13:46 AM
Nari

उम्र नहीं कारनामा देखो जनाब! महज 16 साल की Pranjali Awasthi ने खड़ी कर दी 100 करोड़ों की कंपनी

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 13 May, 2024 11:53 AM
उम्र नहीं कारनामा देखो जनाब!  महज 16 साल की Pranjali Awasthi ने खड़ी कर दी 100 करोड़ों की कंपनी

किसी ने सही कहा है कि टैलेंट उम्र देखकर नहीं आता और सफलता किसी के भी हाथ लग सकती हैं, बस जरूरत है द्दढ़ निश्चय और खूब सारी मेहनत की। प्रांजलि अवस्थी की कहानी भी कुछ ऐसी ही है। जिस उम्र में बच्चे को ये समझ नहीं आता कि कौन सी करियर की दिशा बेस्ट है, उस उम्र में प्रांजिल एक करोड़ों की कंपनी की मालकिन है। जी हां, सुनकर झटका लगा होगा पर ये सच है। अपनी Teenage में ही प्रांजलि ने ऐसा दिमाग लगाया की अमेरिका तक उनके नाम का डांका बज गया है। आइए आपको बताते हैं  प्रांजलि के बारे में...

PunjabKesari

पढ़ाई के लिए प्रांजलि जा बसी विदेश

प्रांजलि वैसे तो भारतीय हैं लेकिन जब वो 11 साल की थी, तब वो पढ़ाई के लिए फ्लोरिडा आ गई थी। यहां पहुंचकर प्रांजलि को लगा कि बिजनेस की दुनिया में वह संभावनाओं ने नए द्वार खोल सकती है। 2 साल कंप्यूटर साइंस और गणित की पढ़ाई करने के बाद प्रांजलि ने 13 साल की फ्लोरिडा इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट की रिसर्च लैब में इंटर्नशिप हासिल कर ली। तभी प्रांजलि को आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की ताकत का पता चला। उन्होंने देखा की AI भविष्य में बहुत काम आ सकता है और उन्होंने इसपर ही बिजनेस शुरु करने की सोची।

PunjabKesari

ऐसे शुरु किया बिजनेस

जैसे ही प्रांजलि ने AI में संभावनाएं देखा तो उन्होंने Delv.AI नाम का स्टार्टअप शुरु किया। ये ऑनलाइ इन्फॉर्मेशन को कलेक्ट करने वाला टूल था। इसके साथ ही प्रांजलि ने मशीन लर्निंग प्राजेक्ट पर भी काम शुरू किया। इस दौरान उन्हें लगा कि AI के जरिए डाटा के इस्तेमाल से तमाम समस्याओं को आसानी से सुलझाया जा सकता है। ये ही देखते हुए उन्होंने साल 2022 में  AI स्‍टार्टअप Delv.AI शुरु किया। उस समय उनकी उम्र महज 16 साल थी। अपने इनोवेटिव आइडिया और लगातार कड़ी मेहनत के दम पर प्रांजलि ने जल्द ही स्टार्टअप को सफल कंपनी में बदल दिया। ये स्टार्टअप पूरी तरह से डाटा जुटाने और उससे सॉल्यूशंस बनाने में मदद करता है। शुरुआत इसकी मदद शोध कार्यों में डाटा के इस्तेमाल के लिए ली जाती थी, जो ऑनलाइन कंटेंट के रूप में मौजूद रहते हैं।

PunjabKesari

फंडिंग में मिले कंपनी को करोड़ों

प्रांजलि की इस  AI वाली कंपनी में सब को दम दिखा। निवेशक भी आकर्षित हुए। साल 2023 में इस कंपनी ने 3.7 करोड़ की फंडिंग जुटा ली। इनका मार्केट कैप बढ़कर 100 करोड़ रुपये पहुंच गया। आज प्रांजलि की कंपनी में उनकी 10 लोगों की टीम भी है, जो भविष्य में वो इस कंपनी को ओर भी बढ़ाने की संभावनाएं देख रहे हैं।

Related News