08 AUGMONDAY2022 10:47:06 PM
Nari

फिर बढ़ा कोरोना का खतरा: देश में हर वयस्क को लगेगा बूस्टर डोज, सरकार बना रही प्लान

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 22 Mar, 2022 11:53 AM
फिर बढ़ा कोरोना का खतरा: देश में हर वयस्क को लगेगा बूस्टर डोज, सरकार बना रही प्लान

कोरोना वायरस का कहर एक बार फिर चीन, दक्षिण कोरिया और यूरोप सहित दुनियाभर के कई देशों में बढ़ता जा रहा है। ऐसे में भारत सभी वयस्कों को Covid​​​​-19 वैक्सीन की बूस्टर खुराक दिए जाने पर विचार किया जा रहा है। ऐसे में भारत सरकार अलर्ट होगई है और सभी उम्र के लोगों को बूस्टर डोज लगाने का फैसला किया है। हालांकि अब तक यह फैसला नहीं हो सका कि  Covid​​​​-19 वैक्सीन की बूस्टर खुराक पहली दो डोज की तरह ही फ्री होगी या नहीं।

चीन के कई शहरों में लगा लॉकडाउन

सूत्रों के मुताबिक, कोरोना के चलते जहां चीन में लॉकडाउन जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई है वहीं कुछ जगहों पर तो लॉकडाउन घोषित भी कर दिया गया है। इसके अलावा दक्षिण कोरिया में नए केसों का आंकड़ा रोजाना 6 लाख तक पहुंच रहा है। वहीं, कुछ भारतीयों को तीसरी खुराक के बिना विदेश यात्रा करना मुश्किल लगता है।

PunjabKesari

सभी वयस्कों को लगेगी वैक्सीन की बूस्टर डोज?

ऐसे में भारत में केवल फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 से अधिक उम्र के लोगों को बूस्टर खुराक देने की अनुमति दी थी, चाहे वह सरकारी केंद्रों में मुफ्त हो या निजी अस्पतालों में भुगतान किया गया हो। साथ ही सरकार ने देश में 12 साल से अधिक उम्र के बच्चों को भी वैक्सीन लगाने की अनुमति दे दी है। मगर, अब सरकार द्वारा हर वर्ग के व्यक्ति को बूस्टर डोज देने पर विचार किया जा रहा है।

क्या फ्री लगेगी बूस्टर डोज?

हालांकि सरकार इस बात पर बहस कर रही है कि क्या अन्य समूहों को मुफ्त में बूस्टर प्रदान की जाए। हालांकि, सरकार ने अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया है। बता दें कि लगभग 1.4 बिलियन की आबादी के बीच वितरित 1.81 बिलियन वैक्सीन खुराक में से 20 मिलियन से अधिक बूस्टर हैं।

PunjabKesari

22 जून तक आएगी चौथी लहर!

हाल ही में IT कानपुर के हवाले से कहा गया था कि कोरोना वायरस की चौथी लहर भारत में 22 जून, 2022 तक आ सकती है। बता दें कि तीसरी लहर को लेकर भी IT कानपुर की भविष्यवाणी सच हुई थी। ऐसे में अगर उनका यह दावा भी सही है तो हमें पहले ही सतर्क हो जाना चाहिए।

PunjabKesari

गौरतलब है कि भारत में संक्रमण एक साल से भी कम समय में सबसे कम हो गया है, हालांकि, पिछले 24 घंटों में 1,549 नए मामले सामने आए हैं और 31 मौतें हुई हैं लेकिन चीन और इटली जैसे देशों ने हाल ही में मामलों में कोरोना मामलों में वृद्धि देखी है।

Related News