21 JUNFRIDAY2024 2:15:21 AM
Nari

घर में भूलकर भी न रखें हनुमान जी की ऐसी मूर्तियां, सुख- शांति हो जाएगी भंग

  • Edited By Charanjeet Kaur,
  • Updated: 20 May, 2024 01:47 PM
घर में भूलकर भी न रखें हनुमान जी की ऐसी मूर्तियां, सुख- शांति हो जाएगी भंग

नारी डेस्क: हिंदू धर्म में सभी देवी- देवताओं के पूजा करने से अलग- अलग नियम बताए गए हैं। मान्यता है कि इस हिसाब से पूजा करने पर भी फल मिलता है वरना अनर्थ भी हो सकता है। वास्तुशास्त्र में भी भगवान की पूजा और उनके रख- रखाव को लेकर भी नियम बताए गए है। अगर आप घर में हनुमानजी की मूर्ति या तस्वीर रखना चाहते हैं तो आपको कई बातों का ध्यान और सावधानियां रखने की जरूरत है। हिंदू धर्म शास्त्रों में हनुमान जी की पूजा को लेकर कई सारे नियम बताए गए हैं। इसके अनुसार ही आपको हनुमान जी की तस्वीर रखनी चाहिए। चलिए आपको बताते हैं इसके बारे में...

हनुमान जी की न लगाएं ऐसी प्रतिमा

न लगाएं हनुमान की उड़ने वाली प्रतिमा

पूजाघर में कभी भी हनुमान जी की ऐसी तस्वीर न लगाएं, जिसमें वो उड़ रहे हैं। उनकी स्थिर प्रतिमा लगाना शुभ होता है।

PunjabKesari

इस दिशा में लगाएं हनुमान जी की तस्वीर

वास्तु शास्त्र के अनुसार हनुमानजी की प्रतिमा दक्षिण दिशा में लगानी चाहिए। लेकिन इस दिशा में जो भी प्रतिमा या फोटो लगाएं, उसमें हनुमान जी बैठी हुई मुद्रा में होने चाहिए। कहा जाता है कि इस दिशा में हनुमान जी का प्रभाव ज्यादा होना चाहिए, क्योंकि सीता माता की खोज दक्षिण दिशा से  आरंभ हुई थी। राम- रावण युद्ध भी दक्षिण दिशा में हुआ था।

हनुमान जी की ऐसी तस्वीर से भी करें परहेज

शास्त्रों के अनुसार राक्षसों का संहार करते हुए या फिर हनुमान जी की लंका दहन की जाने वाली तस्वीर को घर में नहीं लगाना चाहिए। ऐसी तस्वीर लगाने से जीवन में सुख और समृद्धि की कमी रहती है और हनुमान जी की कृपा नहीं मिल जाती है।

PunjabKesari

 

घर में लगाएं हनुमान जी की ऐसी प्रतिमा

हनुमान जी की पीले वस्त्र वाली प्रतिमा

माना जाता है कि घर में हनुमान जी की पीले वस्त्र पहने हुए प्रतिमा या मूर्ति रखनी चाहिए। इससे घर में सुख और समृद्धि आती है और संकटमोचन आपके सभी दुखों का निवारण कर देते हैं।

PunjabKesari

बच्चों के कमरे में संकटमोचन की लगाएं ये प्रतिमा

बच्चों के कमरे में बजरंगबली की बालाव्यस्था की तस्वीर और लंगोट पहने हुए तस्वीर रखनी चाहिए। ऐसा करने से उनका मन पढ़ाई में लगा रहता है और उनको किसी भी तरह का भय नहीं होता है। 

Related News