Twitter
You are hereNari

पेनकिलर से जुड़ी ये 5 गलत आदतें बढ़ा सकती हैं आपकी प्रॉब्लम

पेनकिलर से जुड़ी ये 5 गलत आदतें बढ़ा सकती हैं आपकी प्रॉब्लम
Views:- Tuesday, March 13, 2018-1:01 PM

बदलते मौसम या दिनभर काम करने के बाद आजकल सिरदर्द या बदन दर्द होने की समस्या आम है। कुछ लोग सिरदर्द या बदन दर्द से छुटकारा पाने के लिए डॉक्टर से पूछें बिना ही पेनकिलर ले लेते हैं। उस समय तो आपको शरीर या सिर दर्द से आराम मिल जाता है लेकिन बाद में यही पेनकिलर आपकी बड़ी बीमारियों का कारण बनती हैं। कुछ लोग तो मामूली सा दर्द होने पर भी पेनकिलर लेना शुरू कर देते है, जो बाद में उनकी आदत बन जाती है। गलत मात्रा और रूटीन में इन दर्दनिवारक दवाइयों का सेवन आपके लिए खतरनाक हो सकता है। आज हम आपको पेनकिलर से जुड़ी आपकी कुछ ऐसी गलतियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जोकि आपके लिए हानिकारक हो सकती है। तो चलिए जानते है किस तरह पेनकिलर का सेवन आपके नुकसान पहुंचा सकता है।
 

1. पेनकिलर से जुड़ी गलतियां
थकावट के कारण कुछ लोगों को सिरदर्द या बदन दर्द की शिकायत रहती है। ऐसे में आप चेकअप कराने की बजाए खुद ही डॉक्टर बन जाते है और पेनकिलर ले लेते हैं। मगर यह आपके लिए खतरनाक हो सकता है। सिर्फ पेनकिलर ही नहीं बल्कि विटामिन्स गोलियों का सेवन भी आपको डॉक्टर्स से पूछकर करना चाहिए। गलत तरीके और समय पर पेनकिलर का सेवन करने से आपको कई साइड इफेक्ट भी हो सकते है। इसलिए हमेशा डॉक्टर से पूछकर ही इस तरह की दवाइयों का सेवन करें।

PunjabKesari

2. एक से अधिक पेनकिलर लेना
अक्सर एक पेनकिलर से दर्द गायब न होने लोग कुछ समय बाद ही दूसरी पेनकिलर ले लेते है, जोकि शरीर को अंदर के हार्म करती है। एक शोध के अनुसार एक से अधिक पेनकिलर का सेवन साइड इफेक्ट के खतरे को बढ़ा देते हैं। किसी भी पेनकिलर मेडिसन का असर होने में कम से कम 30 मिनट लगते है। ऐसे में बेसब्र होकर पेनकिलर की ओवरडोज लेने से आपको ब्ली‌डिंग, किडनी फेलियर, हार्ट अटैक, ब्लड क्लॉटिंग जैसे बीमारियों का खतरा हो सकता है।
 

3. रुटीन का हिस्सा
कई बार लोग अपने दर्द से आराम पाने के लिए इन दवाइयों के इतने आदि हो जाते है कि वो इसे अपनी रूटीन का हिस्सा बना लेते हैं। मगर क्या आप जानते है लंबे समय तक किसी भी पेनकिलर का सेवन किडनी फेल, लीवर के खराब होने या मानसिक बीमारियों का कारण बन सकता हैं। इसलिए किसी भी पेनकिलर का सेवन डॉक्टर से पूछें बिना न करें।

PunjabKesari

4. खाली पेट पेनकिलर लेना
बहुत से लोग दर्द बर्दाश्त न कर पाने के कारण खाली पेट ही पेनकिलर ले लेते हैं लेकिन इससे आपको गैस्ट्रिक या एसिडिटी की समस्या हो सकती है। इसके अलावा इससे आपकी तबीयत भी बिगड़ सकती है। इसलिए पेनकिलर लेने से पहले कुछ न कुछ जरूर खाएं।
 

5. दवा को तोड़ कर लेना
गोली निगलने में होने वाली परेशानी को लेकर बहुत से लोग इसे तोड़कर या क्रश करके लेते है। बच्चों को तो आप खासतौर पर आप दवाई तोड़कर या क्रश करके ही देते है। मगर ऐसा करने से दवाई तेजी से शरीर में घुलती है, जिसे कई बार आपका शरीर संभाल नहीं पाता। दवाई को तोड़कर या क्रश करके लेने से यह ओवरडोज की तरह काम करती हैं। इसलिए गोली को तोड़कर लेने की बजाए पूरी लें, नहीं तो गोली का आधा हिस्सा ही लें।

PunjabKesari


फैशन, ब्यूटी या हैल्थ महिलाओं से जुड़ी हर जानकारी के लिए इंस्टाल करें NARI APP