01 DECTUESDAY2020 10:40:37 PM
Nari

फैटी लिवर में धीमे जहर की तरह काम करता है दूध, जान लें जरूरी बातें

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 06 Nov, 2020 01:26 PM
फैटी लिवर में धीमे जहर की तरह काम करता है दूध, जान लें जरूरी बातें

दूध को संपूर्ण आहार माना जाता है क्योंकि इसमें सभी जरूरी तत्व पाए जाते हैं। मगर, जरूरी नहीं दूध हर किसी के लिए फायदेमंद हो। कुछ लोगों को दूध से एलर्जी होती है। वहीं, जिन लोगों को फैटी लिवर की समस्या हो उन्हें भी दूध से परहेज करना चाहिए क्योंकि उनके लिए दूध धीमे जगह की समान होता है।

क्या होता है फैटी लिवर?

यह समस्या लिवर में फैट यानि वसा की मात्रा बढ़ जाने की वजह से होती है। इसके कारण लिवर ठीक तरह के कोई भी काम नहीं कर पाता , जिसका असर मेटाबॉलिज्म के साथ पूरे शरीर पर पड़ता है। वहीं, इसके कारण पेट भी अक्सर खराब रहता है और पेट में भारीपन, गैस्टिक, अपच, थकान और वजन भी बढ़ने लगता है। शोध के अनुसार, नॉन-ऐल्कॉहॉल फैटी लिवर डिजीज (NAFLD) के मामलों में 15% वृद्धि हुई है। हर महीने कम से कम 10-12 नए फैटी लिवर के मामले सामने आते हैं।

फैटी लिवर में क्यों हानिकारक है दूध?

आयुर्वेद के अनुसार, फैटी लिवर के कारण दूध पचाने में दिक्कत होती है और इससे लिवर में सूजन व फैट की समस्या बढ़ सकती है। दरअसल, दूध में प्रोटीन होता है, जो फैटी लिवर के की कंडीशन को बिगाड़ सकता है।

PunjabKesari

दूध पीने से बढ़ जाएगी समस्या

फैटी लिवर में फैट जमा होना, सूजन या फाइब्रॉइड्स की समस्याएं होने लगती है, जो सही इलाज ना मिलने पर धीरे-धीरे गंभीर रूप ले लेती है। ऐसे में अगर मरीज प्रोटीन का सेवन कर लें तो समस्या और भी बढ़ जाती है इसलिए इस हैल्थ कंडीशन में दूध नहीं पीना चाहिए।

क्या फैटी लिवर में ले सकते हैं दही-छाछ?

इसमें दूध से परहेज करना चाहिए लेकिन आप दही और छाछ का सेवन कर सकते हैं लेकिन लिमित में। साथ ही दही व छाछ में हींंग और भुना जीरा भी डाल लें। इससे लिवर की अवशोषण क्षमता बढ़ जाएगी।

फैटी लिवर का घरेलू उपचार (Fatty Liver Home Remedies)

1. लहसुन का सेवन करने से फैटी लिवर की समस्या से आराम मिलता है।
2. ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो लिवर फंक्शन को सही करने में मदद करते हैं। रोजाना 2-3 कप ग्रीन टी पीएं। 

PunjabKesari
3. हल्दी के औषधीए गुण भी लिवर को क्षतिग्रस्त होने से बचाते हैं।
4. सुबह जल्दी उठकर 3 से 4 गिलास पानी का सेवन जरूर करें।
5. दालचीनी एंटीऑक्सीडेंट और इंसुलिन-सेंसिटाइजर गुण NAFLD को बेहतर बनाने में मदद करते हैं।

इन चीजों से रखें परहेज

फैटी लिवर की समस्या से बचने के लिए मसालेदार, ऑयली फूड, शराब, मीठे पदार्थ, तली हुई चीजें, नमक, रिफाइंड ग्रेन, रेड मीट, सोडा और फ्रूट जूस से परहेज करें।
 

Related News