23 MAYMONDAY2022 7:47:50 PM
Nari

सुपारी की लत ने कर दी बच्ची की जिंदगी बर्बाद, घर वालों को देखकर हुई 'नशे की आदी'

  • Edited By palak,
  • Updated: 13 May, 2022 03:56 PM
सुपारी की लत ने कर दी बच्ची की जिंदगी बर्बाद, घर वालों को देखकर हुई 'नशे की आदी'

बच्चों में संस्कार हमेशा बड़ों को देखकर ही आते हैं। बच्चे अपने माता-पिता को ही फोलो करते हैं। इसलिए बच्चों से पहले बड़ो को अपने आचरण सही करने की जरुरत है। एक ऐसी ही दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। पांच वर्ष की रीना अपने परिजानों को देखकर सुपारी खाने लग गई जिसके कारण उसे मुंह का कैंसर हो गया। पांच साल की मामूली सी लड़की का इलाज  दिल्ली के मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में चल रहा है। अब रीना का हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। 

PunjabKesari

रीना की डॉक्टर सुनीता ने बताया 

रीना का इलाज कर रही मौलाना आजाद डेंटल कॉलेज की ओरल मेडिसिन एंड रेडियोलॉजी की प्रमुख डॉ सुनीता गुप्ता ने बताया कि रीना के परिजनों से बातचीत के दौरान पता चला कि उनके घर में सुपारी काटकर रख देते थे और बाहर से आते-जाते हुए खा लेते थे, जिसे देखकर रीना भी वही करने लग गई। परिजनों को देखकर रीना ने भी सुपारी खाना शुरु कर दी और उसे सुपारी खाने की आदत पड़ गई। 

PunjabKesari

दूध और खाना पीना भी कर दिया बंद 

लगातार सुपारी खाने के कारण रीना ने दूध पीना भी बंद कर दिया और उसने खाना भी खाना छोड़ दिया।  रीना का मुंह भी खुलना बंद हो गया था। परिजन पहले रीना को निजी अस्पतालों में दिखाते रहे, लेकिन उसे कोई फर्क नहीं पड़ा। फिर वह उसे लेकर मौलाना आजाद डेंटल मेडिकल कॉलेज में गए। जहां डॉक्टरों के द्वारा जांच में पता चला कि उसे पहली स्टेज का कैंसर है। 

इलाज के बजाय कराया झाड़ू-पोछा 

डॉक्टर सुनीता गुप्ता ने बताया कि रीना के परिजन इस बात को मानने के लिए तैयार ही नहीं थे कि उसे कैंसर हो गया है। परिजनों का दावा था कि झाड़ू-फूंक के बाद उसका मुंह खुल जाएगा। रीना के परिजन उसको लेकर कही ओर चले गए। परंतु बच्ची की हालत और भी गंभीर हो गई। जिसके बाद फिर से परिजन उसे लेकर मौलाना आजाद मेडिकल कॉलेज में लेकर आए। मेडिकल कॉलेज में रीना का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि अब रीना खतरे से बाहर है। 

PunjabKesari


 

Related News