20 AUGSATURDAY2022 6:59:50 AM
Nari

" मुझे सुकून चाहिए था इसलिए मैंने शादी कर ली और यही मेरे लिए जरूरी था"

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 05 Aug, 2022 06:44 PM

बॉलीवुड की फेमस एक्ट्रेस में काजोल का नाम भी शामिल रहा है और वो उन हीरोइनों की लिस्ट में भी रही हैं जिन्होंने शादी के लिए अपने टॉप के करियर को बीच में ही छोड़ दिया और परिवार के लिए हाउस-वाइफ बन गई हालांकि काजोल ने एक इंटरव्यू में कहा था, "मैं शादी से पहले उस तरह की इंसान थी जो कभी शादी ही नहीं करना चाहती थी। मुझे हमेशा लगता था कि मैं उन लोगों में से हूं, जिसके सिर पर बंदूक रख कर किसी को कहना होगा, शादी कर लो नहीं तो मैं तुम्हारा सिर उड़ा दूंगा।" तो फिर ऐसा क्या हो गया जो उन्होंने शादी के लिए सब कुछ छोड़ दिया? चलिए आज उनके बर्थ-डे के मौके पर काजोल की लाइफ से जुड़े दिलचस्प किस्से आपको सुनाते हैं।

PunjabKesari

काजोल 48 साल की हो गई हैं। अपनी इस एज तक उन्होंने बहुत से उतार-चढ़ाव देखे। पर्सनल लाइफ की बात करें तो काजोल ने शादी ना करने का फैसला भी परिवार के लिए ही किया था और करने का फैसला भी परिवार को देखकर ही। दरअसल, काजोल ने 23 साल की छोटी उम्र में करियर छोड़ दिया था और अजय से शादी करने का फैसला लिया था जो बात उनके पिता को कतई पसंद नहीं थी। वह इस बात से काफी नाराज थे क्योंकि वह चाहते थे कि बेटी अपने करियर पर फोकस करें लेकिन काजोल ने शादी करने का फैसला ले लिया था।

PunjabKesari
इस बारे में काजोल ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'मैं जिंदगी और करियर में ठहराव चाहती हूं। मुझे काम करते हुए तकरीबन 9 साल हो गए थे और हर साल मेरी 4 से 5 फिल्में आ रही थीं। मेरे पास पैसा-शोहरत और कामयाबी सब था बस अपने लिए वक्त ही नहीं था ना ही सुकून। बस एक बड़ा फैसला लेना का यही सही वक्त था और उस वक्त मैंने तय किया कि अब शादी करूंगी और साल में ज्यादा से ज्यादा एक फिल्म करूंगी।'  बता दें कि काजोल के इस फैसले के पीछे उनका बचपन और माता-पिता भी थे। दरअसल, काजोल ने बचपन में पैरेंट्स के एक साथ ना होने का दुख झेला था इसलिए वह परिवार को ज्यादा अहमियत देती रही हैं। शायद इसी दुख के चलते पहले वह शादी करना ही नहीं चाहती थी लेकिन बाद में जब अजय उन्होंने मिले तो उन्होंने शादी का फैसला किया और शादी के बाद अपने परिवार को तवज्जो दी।

PunjabKesari

बता दें कि काजोल का मराठी वेडिंग लुक सुर्खियों में रहा था। साड़ी की शौकीन काजोल ने अपनी शादी में भी भारी भरकम लहंगा पहनने की बजाए सिंपल साड़ी चुनी थी। ट्वीक इंडिया के लिए ट्विंकल खन्ना को दिए इंटरव्यू में काजोल ने कहा था कि उन्होंने कभी शादी करने के बारे में नहीं सोचा था लेकिन अजय के आने के बाद उनकी जिंदगी बदल गई। काजोल ने कहा कि अजय की सादगी और अद्भुत स्वभाव ने शादी को लेकर उनके मन में विश्वास जगाया। काजोल ने कहा, "आखिरकार जब मैं अजय से मिली तो उन्होंने मुझे स्थिर रहना सिखाया। मुझे, अजय जमीन से जुड़े हुए व्यक्ति लगे। वह एक दीवार, एक चट्टान की तरह लगे, इसलिए मुझे लगा कि यह कुछ ऐसा है जिस पर मैं वास्तव में विश्वास कर सकती हूं। मैं अजय से मिलकर समझ गई थी कि, कुछ भी हो जाए यह मुझे नहीं छोड़ेगा और ना मैं उसे छोड़ना चाहूंगी इसलिए मुझे अब लगता है कि मुझे एक सही व्यक्ति मिला है।"

PunjabKesari
दोनों की मुलाकात 1995 में फिल्म 'हलचल' के सेट पर हुई थी। शूटिंग के दौरान दोनों एक-दूसरे को दिल दे बैठे और फिर फैमिली की मर्जी से कपल ने  महाराष्ट्रियन रीति-रिवाज से शादी की थी लेकिन शादी इतनी प्राइवेट थी कि मीडिया वालों को इसकी भनक तक नहीं लगी थी बावजूद इसके उनकी शादी की तस्वीरें मीडिया में खूब वायरल हुई थी। 24 फरवरी 1999 में दोनों ने शादी की और कहा जाता है कि अजय ने अपनी शादी का गलत पता बताया था ताकि मीडिया ना पहुंच सके लेकिन मीडिया ने इस कपल की वैडिंग कैप्चर कर ही ली थी। काजोल की वेडिंग लुक बहुत फेमस हुई थी। वैसे तो काजोल बंगाली परिवार से हैं लेकिन शादी के दिन वह ट्रेडिशनल मराठी दुल्हन बनी थी और शादी के लिए उन्होंने लहंगा नहीं बल्कि सिंपल सी ग्रीन कलर की नौवारी साड़ी पहनी थी जिसे महाराष्ट्रियन साड़ी भी कहते हैं। उन्होंने पहली बार ही नौवारी साड़ी पहनी थी।

PunjabKesari
इस साड़ी को धोती स्टाइल में पहना जाता है और यह नौ गज लंबी होती है इसी लिए तो इसे नौवारी साड़ी कहा जाता है। दरअसल, धोती स्टाइल साड़ी के लिए ज्यादा लंबाई की जरूरत होती हैं। हरे रंग की सिल्क साड़ी पर सुनहरे धागों का खूबसूरत बॉर्डर था इसके अलावा पूरी साड़ी पर कहीं भी कोई वर्क नहीं था। साड़ी का ब्लाउज भी सिंपल हाफ स्लीव्स के साथ स्टिच किया गया था और साड़ी के बॉर्डर की तरह ही ब्लाउज पर भी गोल्डन बॉर्डर था इसी के साथ उन्होंने मराठी नथ और मुंडावल्या पहना और मैचिंग हरी चूड़ियां और सोने के कंगन पहने थे। गले में चोकर हार, कानों में साड़ी से मैच करते लंबे ईयररिंग्स, मांगटीका, बाजूबंद और ट्रडीशनल महाराष्ट्रीयन नथ और ट्रडीशनल मोतियो से सजा मुंडावल्या पहना था जो दुल्हन के माथे पर सजाया जाता है। माथे पर मोटे धागे की तरह दिखने वाला मुंडावल्या ज्यादातर मोती से बनाया जाता है।

PunjabKesari
मराठी नथ को ब्राह्मणी नथ भी कहा जाता है जो काजोल पर खूब फब्ब रही थी और शायद आपको यह बात पता ना हो कि हाथों में हरे रंग की चूड़ियों को दुल्हन की फर्टिलिटी और खुशहाली से जोड़ा जाता है। काजोल ने बालों को सिंपल जूड़े पर गजरा लगाया और एक दम सिंपल नैचुरल सा मेकअप किया।  फेरों के समय काजोल ने लाल रंग की चुनरी ओडी थी। सफेद शेरवानी पहने अजय देवगन ने काजोल को डायमंड पेंडेंट मंगलसूत्र पहनाया था। इसकी डोरी में ट्रेडिशनल मंगलसूत्र की तरह ही काले और सोने के मोतियों का इस्तेमाल किया गया था। काजोल और अजय की शादी को एक लंबा अरसा बीत गया है और दोनों ने हर मोड़ पर एक दूसरे का साथ दिया और बच्चों की अच्छा लाइफस्टाइल दिया क्या आपको लगता है कि काजोल का शादी के लिए करियर पर स्टॉप लगाना सही था तो हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं साथ ही में बताएं कि आपको यह पैकेज कैसा लगा।  

Related News