01 JUNMONDAY2020 11:53:23 AM
Life Style

चीनी एक्सपर्ट का दावा! 4 हफ्तों में खत्म होगा कोरोना, पहले जैसी होगी दुनिया

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 04 Apr, 2020 01:26 PM
चीनी एक्सपर्ट का दावा! 4 हफ्तों में खत्म होगा कोरोना, पहले जैसी होगी दुनिया

कोरोना वायरस के खौफ के बीच पूरी दुनिया के लिए चीन से अच्छी खबर आई है। चीन के सबसे बड़े कोरोना वायरस (कोविड-19) एक्सपर्ट ने महामारी के खत्म होने का दावा किया है। एक्सपर्ट का दावा है कि ज्यादातर देशों ने कोरोना वायरस से निपटने के लिए कड़े कदम उठाए हैं इसलिए अगले 4 हफ्तों में पूरी दुनिया पहले जैसी हो जाएगी। एक्सपर्ट का मानना है कि निश्चित रूप से कोरोना मामलों में गिरावट आएगी। उन्होंने कहा कि चीन में कोरोना वायरस के केस में पहले ही कमी आई है। डॉ. झोंग ने इस बात को नकार दिया कि चीन में अब भी कोरोना के मामले तेजी से फैल रहे हैं।

4 हफ्तों में खत्म होगी महामारी!

उन्होंने कहा कि यह जानकर दुख होता है कि दुनिया में यह प्रचारित किया जा रहा है कि चीन में अब भी लाखों साइलैंट कोरोना कैरियर्स हैं। ये वे लोग हैं जो वायरस की चपेट में हैं लेकिन इनमें लक्षण नहीं दिखते। डॉ. झोंग ने कहा कि यह पूरी तरह काल्पनिक और झूठा आरोप है। चीन में संक्रमित कोरोना मरीजों को अस्पताल में भर्ती किया जा चुका है। नए मामले सामने नहीं आए हैं।

PunjabKesari

कौन है डॉ. झोंग नानशान

डॉ. झोंग नानशान वह शख्स हैं, जिन्हें चीन की सरकार ने कोरोना वायरस को  लेकर तैनात मुख्य टीम का प्रमुख बनाया है। डॉ. झोंग नानशान संक्रामक बीमारियों विशेषज्ञ हैं। उन्हें खासकर कोरोना वायरस जैसी महामारी का एक्सपर्ट बताया जाता है। डॉ. झोंग ही वह सदस्य हैं, जिन्हें चीन सरकार ने स्थिति का आकलन करने पेइचिंग से वुहान भेजा था। उन्होंने सोर्स से मुकाबले में भी प्रमुख भूमिका निभाई थी।

PunjabKesari

ब्रिटेन की ऑनलाइन मीडिया कंपनी डेली मेल को दिए एक इंटरव्यू में 83 वर्षिय डॉ. झोंग ने दावा किया कि चीन ने मॉर्निटरिंग सिस्टम को बहुत ज्यादा मजबूत कर दिया है इसलिए अबयहां दूसरा हमला होने की गुंजाइश नहीं बची है।

कोविड-19 से लडने के 2 तरीके बताए

डॉ. झोंग नानशान ने कोविड-19 से लडऩे के लिए 2 तरीके भी बताए हैं।

पहला- संक्रमण की दर को सबसे कम स्तर पर ले जाएं। उसे बढऩे से रोकें। इससे वैक्सीन तैयार करने के लिए समय और मदद मिलेगी। इस तरह ही इस महामारी को खत्म करने में मदद मिलेगी।
दूसरा- कोरोना वायरस के संक्रमण में देरी लाई जाए और मरीजों की संख्या को अलग तरीकों से कम किया जाए।

PunjabKesari

Related News