You are hereNari

बच्चों में निमोनिया के लक्षण दिखने पर करें ये घरेलू उपचार

बच्चों में निमोनिया के लक्षण दिखने पर करें ये घरेलू उपचार
Views:- Monday, July 17, 2017-2:05 PM

बच्चों में निमोनिया के  कारण और  लक्षण : निमोनिया एक ऐसी बीमारी है जो छोटे बच्चों में ज्यादा देखने को मिलती है। बारिश के दिनों में इस बीमारी का खतरा और भी बढ़ जाता है। निमोनिया होने पर पहले हल्का सर्दी-जुकाम होता है फिर यह धीरे-धीरे बढ़कर निमोनिया में बदल जाता है। इससे बच्चों की छाती में कफ जम जाता है जिससे उन्हें सांस लेने में भी मुश्किल होती है। ऐसे में कुछ घरेलू नुस्खे अपनाकर निमोनिया से राहत पाई जा सकती है क्योंकि बच्चे दवाई खाने से मना करते हैं जिससे यह नुस्खे उन्हें फायदा दिलाएंगे।

निमोनिया के लक्षण
तेज सांस लेना
कफ और खांसी
होंठों और नाखुन का रंग पीला पड़ना
उल्टी आना
सीने और पेट में दर्द

निमोनिया के घरेलू उपाय
1. हल्दी
PunjabKesariहल्दी में मौजूद एंटीबायोटिक गुण शरीर को कई बीमारियों से दूर रखते हैं। निमोनिया होने पर थोड़ी-सी हल्दी को गुनगुने पानी में मिलाएं और इसे छाती पर लगाने से राहत मिलती है।
2. लहसुन का पेस्ट
PunjabKesariइसके लिए लहसुन की कुछ कलियों को मसलकर उसका पेस्ट बना लें और रात को सोने से पहले बच्चे की छाती पर लगा दें जिससे शरीर को गर्माहट मिलेगी और कफ बाहर निकलेगा।
3. लौंग
PunjabKesariएक गिलास पानी में 5-6 लौंग, काली मिर्च और 1 ग्राम सोडा डालकर उबाल लें। अब इस मिश्रण को दिन में 1-2 बार लेने से फायदा होता है।
4. ब्लैक टी और मेथी
इसके लिए 2 चम्मच मेथी पाउडर में 1 कप ब्लैक टी मिलाएं और उबाल कर काढ़ा बना लें। इसे दिन में 1 बार पीने से बहुत जल्दी निमोनिया से राहत मिलती है।
5. तुलसी
तुलसी की कुछ पत्तियों को पीस कर उसका रस निकाल लें और इसमें थोड़ी-सी काली मिर्च मिलाकर दिन में 2 बार पीएं।
6. पुदीना और शहद
पुदीने की पत्तियों का रस निकाल कर उसमें 1 चम्मच शहद मिलाकर लेने से भी निमोनिया से राहत मिलती है।