Twitter
You are hereNari

नाखूनों का बदलता हुआ रंग देता है इन बीमारियों के संकेत

नाखूनों का बदलता हुआ रंग देता है इन बीमारियों के संकेत
Views:- Friday, November 17, 2017-11:27 AM

नाखून कैल्शियम और केरेटिन नामक प्रोटीन से बने होते है। शरीर में पोषक तत्वों की कमी या कई बीमारियां होने पर केरेटिन की सतह प्रभावित होने लगती है, जिस वजह से नाखूनों में कुछ बदलाव आने लगता है। आज हम आपको नाखूनों में आए कुछ बदलाव के बारे में बताएंगे, जो हमे कुछ बीमारियों के संकेत देते है। 

 

- पीले नाखून
 अगर नाखून का रंग हल्का पीला है तो यह एनीमिया, हृदय रोग, कुपोषण व लिवर संबंधी बीमारियों का संकेत है। इसके अलावा फंगस इंफैक्शन की वजह से भी पूरा नाखून पीली हो जाता है। 

- सफेद नाखून
अगर नाकून पूरी तरह सफेद पड़ जाते है तो यह लिवर, हृदय या आंतों की बीमारियों का संकेत हो सकता है। ऐसे में डॉक्टरी सलाह जरूर लें। 

- नीले नाखून
शरीर में ऑक्सीजन का संचार सही ढंग से न चलने के कारण नाखून नीले पड़ जाते है। इसके अलावा यह फेफड़ों में इंफैक्शन, निमोनिया या दिल की बीमारियों का संकेत हो सकता है। 

- मोटे और रूखे नाखून
अगर नाखून ज्यादा मोटे और खुरदरे है तो यह फंगल इंफैक्शन का संकेत हो सकता है। इसके अलावा रोग-प्रतिरोधक क्षमता में कमी आनें से भी नाखून ऐसे दिखने लगते है।