03 OCTMONDAY2022 12:37:01 AM
Nari

केदारनाथ धाम के गर्भगृह में अब नहीं मिलेगी एंट्री, हर रोज 13,000 श्रद्धालु लगा रहे हाजिरी

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 20 Sep, 2022 06:23 PM
केदारनाथ धाम के गर्भगृह में अब नहीं मिलेगी एंट्री, हर रोज 13,000 श्रद्धालु लगा रहे हाजिरी

उत्तराखंड में श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति ने सोमवार को भारी भीड़ के मद्देनजर केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर फिलहाल रोक लगा दी। दो माह के मानसून सीजन के दौरान श्रद्धालुओं की संख्या में आई कमी के बाद, अब फिर तीर्थयात्रियों की भारी भीड़ चारों धाम में उमड़ रही है।

PunjabKesari
मंदिर समिति के अध्यक्ष अजेंद्र अजय ने कहा कि हमने केदारनाथ मंदिर के गर्भगृह में श्रद्धालुओं के प्रवेश पर फिलहाल रोक लगा दी है क्योंकि अंदर सीमित स्थान है जबकि भीड़ बहुत ज्यादा है। जब तक रोक लगी है, तब तक श्रद्धालु भगवान के दर्शन के लिए सभा मंडप तक ही जा पाएंगे। मानसून अवधि से पहले भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ने के चलते ऐसी ही रोक लगाई गयी थी।

PunjabKesari

अजय ने कहा- इस प्रतिबंध को हटाने के लिए कोई तारीख निर्धारित नहीं की गयी है। जब भीड़ कम हो जाएगी, इस रोक को हटा लिया जाएगा। बता दें कि इन दिनों हर रोज औसतन 13,000 श्रद्धालु बाबा के दरबार में हाजिरी लगा रहे हैं। कहा जा रहा है कि पांच महीने में करीब 12 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने बाबा केदारनाथ के दर्शन किए। 

PunjabKesari

बताया जा रहा है कि केदारनाथ दर्शन के लिए मौसम साफ होने के कारण तीर्थ यात्रियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। मंदाकिनी नदी के निकट उत्तराखंड के गढ़वाल हिमालय पर्वत पर स्थित, केदारनाथ मंदिर दुनिया भर में हिंदुओं का प्रसिद्ध मंदिर है। उत्तराखण्ड में हिमालय पर्वत की गोद में केदारनाथ मन्दिर 12 ज्योतिर्लिंग में शामिल है। केदारनाथ, पंच केदार का निर्माण करने वाले पांच मंदिरों में से एक है। अधिक ऊंचाई होने के कारण सर्दियों में यह मंदिर बर्फ की चादर में लिपट जाता है।

Related News