23 SEPMONDAY2019 11:48:54 PM
Nari

पत्नी ने पति से मांगा तलाक, पति का जवाब सुनकर कोर्ट भी हुआ दंग

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 31 Aug, 2019 11:40 AM
पत्नी ने पति से मांगा तलाक, पति का जवाब सुनकर कोर्ट भी हुआ दंग


आज कल कोर्ट में जितनी मैरिज रजिस्ट्रेशन के लिए लोग नही आते है उससे ज्यादा कपल तलाक लेने के लिए आते है। शायद इसका कारण पति पत्नी के बीच मन मुटाव रहना या घर वालों के दवाब डालने पर बिना एक दूसरे मर्जी जाने शादी कर लेना है। मध्य प्रदेश के भोपाल में भी पत्नी से अपने पति से तलाक मांगा, तो पति ने कहा शादी करना उसका सपना नही वह तो उसने अपने माता- पिता के दवाब में आकर की थी। 

कुछ समय पहले भोपाल में रहने वाली एक लड़की ने अपनी पति से तलाक मांगने कारण बताया कि उसका पति उसकी तरफ बिल्कुल भी ध्यान नही देता है। वह कितना भी कोशिश कर ले उसका पति न ही उसकी ओर ध्यान देता है न ही उसकी परवाह करता है। वह सारा दिन संघलोक सेवा आयोग ( यूपीएससी, यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन) की तैयार करता रहता है। सारा दिन वह खुद को एक कमरे में बंद रखता है। 

दो महीने फोन करके हाल तक नही पूछा 

कटारा हिल्स की रहने वाली महिला ने जब अपना केस फाइल करवाया तो यह मामला जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में काउंसिलिंग में आया हैं। जहां पर दोनों की काउंसलिंग कर उन्हें समझा कर रिश्ते को बचाया जा रहा है। पत्नी ने इस दौरान कहा कि वह मुंबई की रहने वाली है जिस कारण भोपाल में उसका कोई भी दोस्त या रिश्तेदार नही हैं। घर में अकेले उसका मन नही लगता था जिस कारण वह 2 महीने के लिए अपने मायके  चली गई। इस दौरान पति मिलने आना तो दूर एक बार फोन करके हाल चाल भी नही पूछा। अब तक शादी को 2 साल हो गए है एक भी बार वह मुझे बाहर घूमाने के लिए नही लेकर गए है। 

शादी नही आईएएस बनना है मेरा लक्ष्य

PunjabKesari,Nari

जब पति की काउसलिंग की गई तो उसने बताया कि शादी नही आईएएस बनना उसका सपना है न की शादी करना। उसने कहा कि वह तो अभी शादी करना नही चाहता था, लेकिन पेरेंट्स का इकलौता बेटा था, जब उन्होंने शादी का जोर डाला तो मुझे शादी करनी पड़ी। लड़के की यह बात सुन कर कोर्ट के साथ घरवाले भी काफी हैरान हुए। पीएचडी करने के बाद वह कोचिंग भी चलाता है। इसके बाद यूपीएससी की तैयारी कर रहा है। प्री- परीक्षा दो बार पास कर चुका है, लेकिन जब तक फाइनल परीक्षा पास नही कर लेता है तब तक इस लड़की को पत्नी का दर्जा नही दे सकता हूं। 

दोनो पक्षो को समझाया जा रहा है

काउसलिंग के दौरान दोनों पक्षों को समझाया जा रहा है। जिसमें पत्नी को पति का साथ देने व पति को पत्नी की भावनाओं का सम्मान करने के लिए कहा जा रहा है।
 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News