18 OCTFRIDAY2019 12:45:37 AM
Nari

कार मुक्त शहर 'Pontevedra'

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 27 May, 2019 06:30 PM
कार मुक्त शहर 'Pontevedra'

स्पेन के ऐतिहासिक शहर पोंटेवेद्रा मोटर कारों पर बैन की वजह से अन्य यूरोपीय शहरों के विपरीत ट्रैफिक समस्या से पूर्णत मुक्त है। अब अन्य यूरोपीय शहर भी इससे प्रेरित होकर मुक्त होने के प्रयास करने लगे हैं। 

पोंटेवेद्रा के मेयर मिगुएल

यूरोप के अधिकतर कस्बों और शहरों में ट्रैफिक लगातार बढ़ रहा है परंतु उत्र-पश्चिम स्पेन के शहर पोंटेवेद्रा में ऐसी कोई समस्या नहीं है क्योंकि वहां दो दशकों से कारों पर प्रतिबंध है। 83,000 की आबादी वाले प्रांतीय राजधानी पोंटेवेद्रा के मेयर मिगुएल एंक्सो फनांडीज के अनुसार उनके शहर में पैदल यात्रियों का पूरा राज है। 64 वर्षीय चिक्त्सिक और वामपंथी विचारों वाले मिगुएल 1999 में मेयर चुने गए और तुरंत ही उन्होंने पोंटेवेद्रा के ऐतिहासिक केन्द्र में मोटर गाड़ियों पर बैन लगा दिया। केवल स्थानीय निवासियों, वितरण सेवाओं तथा सार्वजनिक परिवहन के वाहनों को अनुमति दी गई और उनकी अधिकतम गति 2010 के बाद से 30 किलोमीटर प्रति घंटा तय है। सड़कों पर ट्रैफिक लाइट्स भी नाममात्र हैं। गॉथिक, पुनर्जागरण तथा बारोक युग के अनेक गिरजाघर तथा अन्य ऐतिहासिक इमारतों वाले इस मध्ययुगीन शहर की हर सड़क पर पैदल चलने वालों को सर्वाधिकार है। एक गिरजाघर 'सेट जेम्स' जाने वाले तीर्थयात्रियों की मंजिल भी है क्योंकि पोंटेवेद्रा प्राचीन तीर्थ मार्गों की दक्षिणी शाखा पर स्थित है। शहर के ट्रैफिक सिस्टम के सही ढंग से काम करने का एक कारण यहां 15,000 वाहनों की पार्किंग का इंतजाम है। इनमें से आधे से अधिक खाली रहते है। अन्य 1,000 पार्किंग स्पेस शहर के सिटी सैंटर में उपलब्ध हैं लेकिन निवासी अथवा डिलीवरी सेवाओं द्वारा वहां 15 मिनट से अधिक रुका नहीं जा सकता। सिटी सैंटर में कार पार्क्स को हरे-भरे क्षेत्रों में तबदील कर दिया गया है। जगह-जगह लगे इंफॉर्मेशन बोर्डस बताते हैं कि शहर के 30 सबसे महत्वपूर्ण सथ्लों की दूरी कितनी है और पैदल वहां पहुंचने में कितना समय लगता है। 

PunjabKesari

सड़क दुर्घटनाओं में एक भी नहीं हुई मौत

आंकड़े भी इस शहर की नीतियों के लाभ उजागर करते हैं। नगर निगम के अनुसार 1999 से 2014 तक कार्बन डाईऑक्साइड उत्सर्जन में 67 प्रतिशत कमी हुई है। 1999 से 2006 के बीच जिन सड़कों पर दुर्घटनाओं में 30 लोगों की मौत हुई, उन्हीं पर 2007 से एक भी जान नहीं गई। इतना ही नहीं, शहर में खरीदारी के लिए निकलने वाले 90 प्रतिशत लोग पैदल ही चलते हैं, लगभग 80 प्रतिशत बच्चे पैदल ही स्कूल जाते हैं, 70 प्रतिशत स्थानीय निवासी कहीं भी पैदल आते-जाते हैं या साइकिल चलाते हैं। सिटी सैंटर में वाहनों की संख्या 80,000 से कम होकर केवल 7000 रह गई है। इसकी तुलना में गतवर्ष जर्मनी की राजधानी बर्लिन निवासियों के औसतन 154 घंटे अथवा से अधिक दिन ट्रैफिक में व्यर्थ गए।

हुआ था विरोध

शुरुआत में पोंटेवेद्रा में कार बैन का विरोध हुआ था। विरोधी दलों से लेकर स्थानीय दुकानदार इसके खिलाफ थे। उन्हें लगा कि इससे उनकी बिक्री कम हो जाएगी लेकिन आज वह खुद ही सबसे अधिक खुश हैं, क्योंकि बाहर न जाने के कारण शहर में ही शॉपिंग करने वालों की संख्या बढ़ गई। साथ ही शहर निवासी 20 साल पहले की तुलना में अधिक खुश और स्वस्थ हैं। स्पष्ट है कि कम तनाव, प्रदूषण, आक्रामकता तथा ट्रैफिक से होने वाली चोटों तथा मौतें न होने पर आप अधिक स्वस्थ तथा खुशी से जीते हैं। 

PunjabKesari

प्रेरित हो रहे हैं अन्य यूरपीय शहर 

अब यूरोप के कई शहरों में बढ़ते ट्रैफिक तथा प्रदूषण से मुक्ति के लिए कदम उठाए जाने लगे हैं। बर्लिन में पर्यावरण, परिवहन तथा जलवायु संरक्षण के लिए शहर को कार मुक्त शहर बनाने के सपना नीति निर्माता देखने लगे हैं। दूसरी ओर मर्सीडीज- बैंज, पोर्श और ऑडी जैसी बड़ी कार कम्पनियों के शहर स्टुटगार्ट में उत्सर्जन के यूरो 4 मानकों को ही पूरा करने वाले सभी डीजल वाहनों पर 1 अप्रैल से बैन लगा दिया गया है। जर्मनी के अन्य कई शहरों में भी कारों की लगातार बढ़ती संख्या को कम करने के लिए कई तरह के प्रतिबंध लग चुके हैं या लगने वाले हैं। बेशक अधिकतर शहरों को अब पोंटेवेद्रा की तरह कार मुक्त करना संभव न हो लेकिन मेयर मिगुएल को यकीन है कि उनकी कार मुक्त अवधारणा के कई पहलू अन्य बड़े शहरों के लिए भी आदर्श हो सकते हैं। कई लोग उनसे सहमत नहीं हैं क्योंकि पोंटेवेद्रा अन्य शहरों की अपेक्षा छोटा है परंतु पैरिस की मेयर एनी हिडाल्गो इससे काफी प्रभावित हैं। गत नवंबर में पैरिस में स्मार्ट सिटी फोरम के दौरान उन्होंने मेयर मिगुएल की खूब तारीफ की थी। एनी चाहती हैे कि पैरिस को 2030 तक पैट्रोल-डीजल कारों से मुक्त कर दिया जाए। उन्होंने पोंटेवेद्रा जाने और शहर के बारे में जितना संभव हो जानने की इच्छा व्यक्त की है। शहरी योजना के लिए कई पुरस्कार जीत चुके हैं। पोंटेवेद्रा के बारे में जानने के लिए दुनिया भर के सिटी प्लानर आ रहे हैं। पोंटेवद्रा नगरपालिका अधिकारियों का कहना है कि उनके शहर के सिद्धांतो का पालन बड़े शहरों को भी करना चाहिए। जहां परिवहन के लिए अंडरग्राउंड ट्रेनों तथा बसों का उपयोग किया जा सकता है। 
 

Related News