14 MAYFRIDAY2021 10:55:40 AM
Nari

2 मिनट का स्वाद दे रहा बीमारियां, Momo के साथ खा रहे हैं लाल चटनी तो हो जाए सतर्क!

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 12 Apr, 2021 10:40 AM
2 मिनट का स्वाद दे रहा बीमारियां, Momo के साथ खा रहे हैं लाल चटनी तो हो जाए सतर्क!

स्ट्रीट फूड्स जैसे न्यूडल्स, स्प्रिंग रोल, मोमोज, समोसे, बर्गर, गोलगप्पे आदि की क्रेविंग आजकल लोगों में बढ़ती ही जा रही है लेकिन अगर 2 मिनट का ये स्वाद मौत के रास्ते खोल दे तो..? दरअसल, मैदे से तैयार होने वाले सॉफ्ट वेजिटेबल, सोया या मीट की फिलिंग वाले मोमज को लोग लाल या मेयोनीज के साथ चटकारे लेकर खाते हैं। मगर, ये आपको कैंसर सहित कई गंभीर बीमारियों का मरीज बना सकता है।

क्यों हानिकारक स्ट्रीट फूड्स?

एक अध्ययन के मुताबिक, मोमोज, समोसे, बर्गर, गोलगप्पे जैसे स्ट्रीट फूड्स में कोलीफॉर्म लेवल बहुत अधिक होता है, जो एक तरह का बैक्टीरिया है। यही डायरिया के साथ-साथ कई बीमारियों के लक्षणों को ट्रिगर करने का काम करता है।

PunjabKesari

चलिए आपको बताते हैं कि मोमोज खाने से शरीर को क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं...

. मोमेज में कैमिकल्स की मात्रा अधिक

रिफाइंड आटे से बनने वाले मोमोज क्लोरीन, एरोडिक कार्बामाइड, बेंज़ोयल पेरोक्साइड जैसे रसायनों से ट्रीट किया जाता है। यह शरीर में जाकर पेनक्रियाज ग्रंथि को नुकसान पहुंचाते हैं, जो कैंसर, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारियों का कारण बन सकता है।

. मोमोज की स्टफिंग भी हानिकारक

शोध के मुताबिक, नॉनवेज मोमोज रोगग्रस्त व पहले से ही मृत चिकन मांस से बनाए जाते हैं, जो सेहत के लिए हानिकारक है। इससे हाजमा खराब हो सकता है और यह इंफेक्शन का कारण भी बन सकता है।

. खराब सब्जियों का प्रयोग

बता दें कि मोमोज बनाने के लिए खराब गुणवत्ता व अनहैल्दी सब्जियों का इस्तेमाल किया जाता है। इनकी साफ-सफाई भी अच्छी तरह नहीं कि जाती है जिससे इनमें ई-कोलाई जैसे बैक्टीरिया पनपने लगते हैं और पेट की बीमारियों को न्यौता देते हैं।

. खतरनाक है मोनो-सोडियम ग्‍लूटामेट

इनमें मोनो-सोडियम ग्लूटामेट (MSG) भी होता है जो मोटापे, इमोशनल ईटिंग मूड़ स्विंग को भी ट्रिगर करता है। साथ ही इससे तंत्रिका विकार, अधिक पसीना आना, सीने में दर्द और उल्टी-मतली हो सकती है।

PunjabKesari

. टेपवर्म का खतरा

पत्तागोभी में टेपवर्म के बीजाणु होते हैं जो आंतों में प्रजनन के द्वारा अपनी संख्या तेजी से बढ़ाते जाते हैं। धीरे-धीरे ये कीड़े खून के रास्ते दिमाग तक पहुंच जाते हैं, जिससे व्यक्ति की जान भी जा सकती है।

. लाल तीखी चटनी भी नुकसानदेह

. चटनी बनाने के लिए लाल मिर्च की गुणवत्ता चेक नहीं की जाती इसलिए यह आपको बीमार बना सकती है। साथ ही इसमें इस्तेमाल होने वाले मसाले बवासीर का कारण भी बन सकते हैं।

. इसके अलावा तीखी चटनी पेट में दर्द, गैस, एसिडिटी, खराब पाचन, ऐंठन और फूड प्वॉइजनिंग का कारण भी बन सकती है।

PunjabKesari

ऐसे में आप भी मोमोज खाने से पहले एक बार अच्छी तरह सोच लें। अगर आप फास्ट फूड्स खाना ही चाहते हैं तो इन्हें घर पर खुद बनाकर खाएं और सेहतमंद रहें।

Related News