17 NOVSUNDAY2019 1:09:23 PM
Nari

'यंगेस्ट फीमेल स्केटबोर्डर' पर बनी है शॉर्ट फिल्म 'कमली', ऑस्कर के लिए हुई सिलेक्ट

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 23 Oct, 2019 12:01 PM
'यंगेस्ट फीमेल स्केटबोर्डर' पर बनी है शॉर्ट फिल्म 'कमली', ऑस्कर के लिए हुई सिलेक्ट

औरत को आज भी समाज में बहुत ही कमजोर समझा जाता है लेकिन एक मां अपनी बच्ची के सपनों को पूरा करने के लिए हर मुश्किल का सामना करती है। तमिलनाडू में रहने वाली मां सुगंती भी अपनी 9 साल की बच्ची के सपनों को पूरा करने के लिए हर पल समाज से लड़ने के लिए तैयार रहती हैं। सुगंती अपनी 9 साल को बेटी कमली को स्केटबोर्डिंट सिखा रही है ताकि वह एक दिन चैंपियन बन सकें। कमली इस समय काफी चर्चा में है क्योंकि उनके जीवन पर आधारित शॉर्ट फिल्म  'कमली'  को ऑस्कर 2020 के लिए चयनित किया गया हैं। यह फिल्म कमली की मां के संघर्ष व कमली की मेहनत पर आधारित है। 

 

कमली से पहले शायद ही तमिलनाडू के मछली पकड़ने वाले महाबलिपुरम गांव में किसी ने स्केटबोर्डिंग का नाम सुना होगा। कमली इस गांव की एकमात्र फीमेल चाइल्ड स्केटबोर्डर है। कमली के जीवन पर शॉट फिल्म बनने से पहले भी पिछले साल वह अपने हुनर के चलते काफी सुर्खियों में रही थी। 

PunjabKesari,Nari

समाज के खिलाफ जाकर मां ने दिखाई हिम्मत 

जिस समाज में महिला को कमजोर समझा जाता है वहीं सुगंती ने अपनी बच्ची के सपने को पूरा करने के लिए न केवल हिम्मत की बल्कि समाज के खिलाफ भी गई। उनका मानना है कि वह समाज के दबाव के कारण अपनी इच्छाओं को पूरी नहीं कर पाई थी लेकिन वह अपनी बेटी के साथ ऐसा नहीं होने देगी। वह चाहतीं है कि उनकी बेटी पूरी आजादी के साथ व बेखौफ अंदाज में स्केटबोर्डिंग करें। समाज के लोग व उनके परिवार के साथ स्केटबोर्डिंग के तैयार नहीं थे क्योंकि उन्हें डर था कि अगर कमली के हाथ-पैर टूट गए थे तो उसकी जिंदगी खराब हो जाएगी लेकिन सुगंती ने इन बातों पर ध्यान नहीं दिया। 

PunjabKesari,Nari

स्केटबोर्डर टोनी हॉक भी शेयर कर चुकी है फोटो 

कमली की स्केटबोर्ड सीखने की हिम्मत को देखते हुए मशहूर स्केटबोर्डर टोनी हॉक ने अपनी फेसबुक वॉल पर कमली की फोटो को शेयर किया था। वह कमली की बेखौफ स्कैटिंग को देख कर हैरान रह गए थे। 

PunjabKesari,Nari

ऑस्कर के लिए चयनित हुई फिल्म 'कमली' 

फिल्म  'कमली'  को ऑस्कर 2020 के लिए चयनित किया गया है। 24 मिनट की यह फिल्म 6 हफ्ते में शूट की गई है जिसमें कमली व उसकी मां के स्ट्रगल को दिखाया गया है। इसे न्यूजीलैंड के साशा रेनबो ने डायरेक्ट किया है।  दिसंबर 2018 में इसे मुंबई इंटरनेशनल शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल में बेस्ट डायरेक्टर, अटलांटा फिल्म फेस्टिवल में बेस्ट डॉक्यूमेंट्री अवॉर्ड मिल चुका हैं।
 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News