Twitter
You are hereNari

ये 5 चीजें नहीं होने देंगी आपकी शुगर को आउट ऑफ कंट्रोल

ये 5 चीजें नहीं होने देंगी आपकी शुगर को आउट ऑफ कंट्रोल
Views:- Saturday, December 15, 2018-3:11 PM

शरीर में शुगर लेवल का कंट्रोल में रहना बहुत जरूरी है, खासकर डायबिटिक पेशेंट के लिए। शुगर लेवल का बढ़ना या कम होना सेहत संबंधी बीमारियों को न्यौता देता है। साथ ही शुगर लेवल बिगड़ने पर शरीर के कई ऑगर्न्स डैमेज भी हो सकते है। कुछ लोग शुगर कंट्रोल करने के लिए दवाइयां लेते हैं लेकिन इसके साथ ही आप कुछ नेचुरल तरीकों से भी इसे कंट्रोल कर सकते हैं।

ब्लड शुगर की सामान्य मात्रा कितनी होनी चाहिए ?

ब्लड शुगर का चेकअप हमेशा खाली पेट ही करवाना चाहिए। इसके लिए आपको 8 से 10 घंटे भूखे रहना चाहिए। वहीं खाली पेट ब्लड शुगर लेवल की सामान्य मात्रा 70 से 110 mg/dl होती हैं और खाना खाने के बाद शुगर की सामान्य मात्रा 140 से 160 mg/dl होनी चाहिए।

PunjabKesari

अनकंट्रोल शुगर लेवल का हो सकता है ये नतीजा

शुगर लेवल बिगड़ने पर आंखों की रेटिना पर असर पड़ता है, जिससे आपको धुंधला दिखाई देने लगता है। इसके अलावा इससे किडनी, शरीर के कोशिकाओं, दिल पर भी बुरा असर होता है। साथ ही शुगर लेवल बढ़ने से इंफेक्शन का खतरा भी बढ़ जाता है।

शुगर लेवल बढ़ने के लक्षण

वजन में कमी आना
अधिक भूख-प्याज लगना
बार-बार मुंह सूखना
बार-बार पेशाब आना
हाथ-पैर झनझनाहत होना
जल्दी थकावट होना
कमजोरी महसूस होना

PunjabKesari

शुगर लेवल कम होने के लक्षण

बहुत भूख लगना
पेट में जलन
चक्कर और पसीना आना
धड़कन तेज होना
बोलने में कठिनाई
बेहोशी महसूस होना

शुगर कंट्रोल करने के टिप्स
प्रोबायोटिक फूड्स का करें सेवन

शुगर लेवल को कंट्रोल करना चाहते हैं तो अपनी डाइट में प्रोबायोटिक युक्त फूड्स जैसे दही, नट्स, सेब, सॉवरक्रॉट, कोम्बुचा, अचार, डार्क चॉकलेट, मिसो सूप और केफिर शामिल करें।

PunjabKesari

दालचीनी

नेचुरल तरीके से शुगर कंट्रोल करने के लिए आप दालचीनी का सेवन भी कर सकते हैं। दालचीनी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट व अन्य पोषक तत्व शुगर लेवल को कंट्रोल करते हैं।

एलोवेरा

एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर एलोवेरा सप्लीमेंट्स का सेवन करने से भी ब्लड में शुगर लेवल नियंत्रित रहता है। डायबिटीज मरीजों के लिए भी एलोवेरा का सेवन बहुत फायदेमंद होता है।

PunjabKesari

मेथी के दानें

मेथी के दानें पैंक्रिएटिक सेल्‍स में इंसुलिन के उत्पादन को तेज करते हैं। इससे शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

ग्रीन-टी

ग्रीन-टी में पॉलीफेनॉल मौजूद होता है, जोकि एक सक्रिय एंटीऑक्सीडेंट है। रोजाना सुबह ग्रीन टी का सेवन दिनभर शरीर को एनर्जेटिक रखने के साथ-साथ शुगर लेवल को भी कंट्रोल करता है।

PunjabKesari

बेशक डायबिटीज कंट्रोल करने के लिए यह सबसे बेहतर ऑप्शन्स है लेकिन अपनी डाइट और दिनचर्या में किसी भी तरह का बदलाव करने से पहले डॉक्टर से सलाह जरूर लें।


यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!
लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP
Edited by: