06 JULWEDNESDAY2022 5:57:27 AM
Nari

Father's Day 2022: कैसे हुई थी इस दिन की शुरुआत और क्यों मनाया जाता है 'फादर्स डे', जानिए

  • Edited By palak,
  • Updated: 19 Jun, 2022 10:57 AM
Father's Day 2022: कैसे हुई थी इस दिन की शुरुआत और क्यों मनाया जाता है 'फादर्स डे', जानिए

पिता घर के वो सदस्य होते हैं, जिनके कारण सारा परिवार चलता है। सारा दिन अपने बच्चों के लिए काम करके वह अपने परिवार का पालन-पोषण करते हैं। उनकी मौजूदगी में सारा परिवार खुद को सुरक्षित महसूस करता है। पिता भी अपने परिवार को बहुत प्यार करते हैं, लेकिन यह बात कभी भी दिखाते नहीं है। पिता के इन्हीं प्रयासों और संघर्ष को ध्यान में रखते हुए हर साल फादर्स डे मनाया जाता है। हर साल यह दिन जून के महीने के तीसरे रविवार के दिन मनाया जाता है। आज यानि की 19 जून को यह दिन पूरे विश्व में सेलिब्रेट किया जा रहा है। इस दिन की शुरुआत कैसे हुई और हर साल यह दिन जून में ही क्यों मनाया जाता है आज आपको इस बारे में बताएंगे। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में...

PunjabKesari

कैसे हुई थी शुरुआत? 

फादर्स डे को मनाने की शुरुआत वाशिंगटन के स्पोकेन शहर से हुई थी। जहां पर इस दिन को पहली बार मनाया गया था। सोनोरा स्मार्ट डॉड नाम की एक लड़की ने इस दिन को पहली बार सेलिब्रेट किया था। सोनारा की मां नहीं थी, उनके पिता नहीं ही सोनारा और उनके बाकी भाई-बहनों को माता-पिता दोनों का प्यार दिया था। सोनारा के पिता ने ही उन्हें पाल पोस कर बड़ा किया था। अपने पापा के प्यार, त्याग और समर्पण को देखकर सोनारा ने सोचा यदि मां को सम्मान देने के लिए मदर्स डे मनाया जाता है तो पापा के प्रेम और स्नेह  के सम्मान के लिए भी फार्दस डे मनाया जाना चाहिए। साल में एक दिन तो पापा के नाम का भी होना चाहिए। सोनारा का जन्म दिन जून में होता था। उन्होंने जून में फादर्स डे मनाने की याचिका दायर की। अपनी याचिका को सफल करवाने के लिए सोनारा ने यूएस तक में भी कैंप लगाए। सोनारा की मांग सरकार के द्वारा मान ली गई और 19 जून 1910 को पहली बार फादर्स डे मनाया गया था। 

PunjabKesari

कब हुई 'फादर्स डे' की आधिकारिक घोषणा?

रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 1916 में अमेरिकी राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने फादर्स डे मनाने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया था, जिसके बाद साल 1924 में राष्ट्रपति कैल्विन कूलिज ने फादर्स को राष्ट्रीय आयोजन के रुप में घोषित कर दिया था। इसके बाद 1966 में राष्ट्रपति लिंडन जॉनसन ने फादर्स डे को जून के तीसरे रविवार को मनाने की घोषणा की। फादर्स डे के दिन छुट्टी की घोषणा 1972 में राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन के द्वारा की गई थी। 

इस दिन का महत्व 

माता-पिता के प्यार का शब्दों में वर्णन करना बहुत कठिन होता है। वह अपने बच्चों को किसी भी स्वार्थ के बिना दिल से प्यार करते हैं। खासकर एक पिता अपने बच्चों के लिए हीरो होते हैं। पिता भी अपने बच्चों के सपने पूरे करने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। उनके भविष्य के लिए लग्न से परिश्रम करते हैं। पिता के बलिदान और प्यार को सम्मान देने के लिए हर साल फादर्स डे मनाया जाता है। इस दिन बच्चे अपने पापा के लिए गिफ्ट्स लेकर, उनकी मनपसंद का खाना बनाकर और उनके साथ वक्त बिताकर इस दिन को सेलिब्रेट करते हैं। 

PunjabKesari
 

Related News