25 JULTHURSDAY2024 3:12:18 PM
Nari

प्रेगनेंसी में लीची का सेवन कितना सेफ है? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

  • Edited By Manpreet Kaur,
  • Updated: 29 May, 2024 10:41 AM
प्रेगनेंसी में लीची का सेवन कितना सेफ है? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

नारी डेस्क: प्रेगनेंसी में हर महिला को ज्यादा से ज्यादा फ्रूट्स खाने की सलाह दी जाती है। गर्भावस्‍था में डाइट का असर महिला और बच्चे पर पहुँचता है इसलिए कुछ ऐसी भी चीजें होती हैं जिनका सेवन उस समय में नहीं भी करना चाहिए और उन्हीं में से एक लीची भी है। लीची स्वादिष्ट तो जरूर होती है लेकिन अक्सर महिलाएं इस समय में लीची को लेकर थोड़ा असमंजस में रहती हैं। ऐसे में उनके दिमाग में एक ही सवाल होता है 'प्रेगनेंसी के दौरान लीची कितनी सेफ है ?' ऐसे में हम आपके लिए इसी सवाल का जवाब लेकर आए हैं। आइए जानते हैं इस बारे में डिटेल में-

PunjabKesari

प्रेगनेंसी में लीची का सेवन कर सकते हैं? 

जी हां, गर्भावस्था में लीची का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए काफी ज्यादा हेल्दी साबित हो सकता है। इसमें कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, विटामिन सी, फोलेट, कोलीन, फॉस्फोरस और पोटेशियम इत्यादि भरपूर रूप से होता है, जो मस्तिष्क, लिवर और हृदय के लिए काफी अच्छा फल माना जाता है। इसके साथ ही यह ब्लड प्रेशर को बनाए रखने में भी मदद करता है।

हालांकि, लीची की तासीर गर्म होती है। इसलिए इसका सेवन आपको सही मात्रा में ही करना है। ज्यादा खाने से शिशु में एलर्जी या त्वचा फटने की समस्या हो सकती है।

PunjabKesari

गर्भावस्था लीची खाने के फायदे 

गर्भावस्था में लीची का सेवन सही मात्रा में करना चाहिए। ऐसे में सही मात्रा में अगर इसे खाया जाए तो यह आपको कई सारे फायदे पहुंचा सकती है। लीची में पॉलीफेनोल खूब पाया जाता है, जो वजन को नियंत्रित करने और लीवर के लिए फायदेमंद हो सकता है। मगर प्रेगनेंसी के दौरान इसे खाते वक्‍त सीम‍ित मात्रा में ही खाएं। इसल‍िए प्रेगनेंसी में इसके सेवन से पहले एक्‍सपर्ट की सलाह जरुर लें।

साइडइफेक्‍ट

- लीची ज्‍यादा खने से भी इसकी वजह से पेट दर्द और कब्ज की समस्या हो सकती है। 
- प्रेग्‍नेंसी में ज्‍यादा लीची खाने से ब्‍लीडिंग की समस्‍या हो सकती है। 
- गर्मियों के दिनों में ज्‍यादा लीची खाने से हीटिंग इफेक्ट्स पैदा हो सकता है। 

PunjabKesari
- अधिक मात्रा में लीची खाने से आपको एलर्जी की समस्‍या हो सकती है। 
-  इसके साथ ही इसका ज्यादा सेवन इस समय में डायब‍िटीज का कारण भी बन सकता है। 

Related News