01 DECTUESDAY2020 11:57:15 PM
Nari

क्या आपके दांतों में होती है तेज झनझनाहट? काम आएंगे ये घरेलू उपाय!

  • Edited By neetu,
  • Updated: 18 Nov, 2020 01:02 PM
क्या आपके दांतों में होती है तेज झनझनाहट? काम आएंगे ये घरेलू उपाय!

दांतों के सेंसिटिव होने से अक्सर कुछ ठंडा, गर्म, मीठा आदि खाने से दांतों में तेज दर्द या झनझनाहट होने लगती है। साथ ही दांतों की अच्छे से सफाई न करने व सही आहार न खाने से भी दांतों से जुड़ी परेशानियां होने लगती है। इसके कारण मसूड़ों में दर्द, ढीलापन, कैविटी आदि की समस्या का सामना करना पड़ता है। 


असल में, दांतों पर इनेमल का सुरक्षा कवच लगा होता है। ऐसे में इसके घिस जाने व खराब होने और मुंह में बैक्टीरिया पनपने से भी दांत कमजोर होने लगते हैं। इसके कारण दांतों के अंदर की नसों के दबने से दर्द महसूस होने लगता है। साथ ही कुछ ठंडा या गर्म खाने से तेज झनझनाहट होने लगती है। ऐसे में अगर आप भी इन समस्याओं से परेशान है तो चलिए आज हम आपको इसके पीछे के कारण बताते हुए कुछ घरेलू नुस्खे बताते हैं। 

मीठे का अधिक सेवन 

भारी मात्रा में मीठी चीजें खाकर दांतों को साफ ना करने से बैक्टीरिया मुंह में पनपने लगते हैं। इसके कारण इनेमल को नुकसान पहुंचने से दांतों के खराब होने की परेशानी होने लगती है। 

कैविटी और दांतों की सड़न भी एक वजह 

दांतों की अच्छे से सफाई ना करने से कैविटी और सड़न की परेशानी होने लगती है। समस्या बढ़ जाने से दांत कमजोर हो टूटने भी लगते हैं।

PunjabKesari

मसूड़ों का ढ़ीला होना 

अक्सर ज्यादा कठोर चीजों का सेवन करने से मसूड़े ढीले होने लगते हैं। ऐसे में मसूड़ों के ढीले होने से दांतोें में सेंसिटीविटी की परेशानी बढ़ने लगती है। 

दांतों पर बार-बार हाथ लगाना

अक्सर लोगों को दांतों पर टूथपिथ, फ्लॉस, हाथ लगाने की आदत होती है। इसके अलावा सही तरीके से ब्रश न करने से भी मसूड़े कमजोर होने लगते हैं। 

डेंटल कॉस्मेटिक ट्रीटमेंट 

कई लोग दांतों का पीलापन दूर करने के लिए डेंटल कॉस्मेटिक ट्रीटमेंट लेते हैं। इससे दांत साफ और चमकदार तो होते हैं। मगर कई बार सेंसिटिवी होने का खतरा रहता है। 

तो चलिए जानते हैं इसे दांतों की सेंसिटिवी दूर करने के कुछ घरेलू उपाय 


- कच्ची सब्जियों का सेवन करने से दांतों की एक्सरसाइज होने के साथ मजबूती मिलती है। 

- काले तिल कई पोषक तत्वों से भरे होते हैं। ऐसे में दिन में 2 बार 1-1 चम्मच काले तिल का सेवन करने से सेंसिटिविटी की परेशानी से राहत मिलती है। 

PunjabKesari


- इस समस्या को दूर करने के लिए नारियल तेल भी काफी फायदेमंद होता है। इसे इस्तेमाल करने के लिए इस तेल को मुंह में करीब 15 मिनट भरकर रखें। फिर कुल्ला करके रोजाना की तरह ब्रश करें। लगातार कुछ दिनों तक इस नुस्खे को अपनाने से सेंसिटिविटी से राहत मिलती है। 

- सरसों, तिल और नारियल के तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर दांतों व मसूड़ों की मसाज करें। फिर गुनगुने पानी से कुल्ला करें। कुछ ही दिनों में फर्क नजर आने लगेगा। 

- लौंग के तेल से दांतों व मसूड़ों की मालिश करने से भी सेंसिटिवी की समस्या दूर हो सकती है। 

- नमक में सरसों का तेल मिलाकर दांतों की मसाज करें। इससे दांतों से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मदद मिलती है। 

PunjabKesari

- दही में मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट्स, एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। ऐसे में रोजाना 1 कटोरी दही का सेवन करने से दांतों को मजबूती मिलती है। यह दांतों पर लगा इनेमल घिसने से रोकता है। साथ ही इनमें होने वाले दर्द, झनझनाहट की परेशानी से आराम मिलता है। 

इस तरह इन घरेलू नुस्खों को अपनाकर आप दांतों में होने वाली कैविटी, दर्द आदि की परेशानी से राहत पा सकते हैं। इससे इन समस्याओं से राहत मिलने के साथ मसूड़ों में मजबूती आती है। 
 

Related News