30 NOVMONDAY2020 2:14:14 AM
Nari

जोड़ दर्द गठिया ना बन जाए... इसलिए यूरिक एसिड पर रखें कंट्रोल

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 19 Aug, 2020 11:39 AM
जोड़ दर्द गठिया ना बन जाए... इसलिए यूरिक एसिड पर रखें कंट्रोल

यूरिक एसिड आज हर 10 में से तीसरे व्यक्ति की समस्या बन गई है। अगर यूरिक एसिड पर कंट्रोल ना रखा जाए तो यह गठिया, आर्थराइटिस और जोड़ों की दर्द का कारण बन जाता है। यूरिक एसिड को कंट्रोल रखने के लिए सबसे जरूरी है सही डाइट और लाइफस्टाइल...

क्या है हाई यूरिक एसिड?

दरअसल, शरीर में मौजूद यूरिक एसिड खून के रास्ते किडनी के जरिए फिल्टर होकर यूरिन के साथ बाहर निकल जाता है। मगर, जब किडनी यूरिक एसिड को फिल्टर नहीं कर पाती तो वह हड्डियों में जमा होने लगता है। धीरे-धीरे यूरिक एसिड शरीर में जमा होकर गाउट बन जाता है और मांसपेशियों में सूजन, दर्द होने लगता है, जिसे हाई यूरिक एसिड यानि हाइपरयूरिसीमिया कहा जाता है।

PunjabKesari

यूरिक एसिड का नार्मल लेवल

पुरुष- 3.4- 7.0 मिलीग्राम/डेसीमीटर
महिला- 2.4-6.0  मिलीग्राम/डेसीमीटर

हाई यूरिक एसिड के लक्षण

-जोड़ों में दर्द
-उठने-बैठने में परेशानी होना
-जोड़ों में गांठ की शिकायत होना
-गांठों में सूजन
-शुगर लेवल बढ़ना

PunjabKesari

हाइपरयूरिसीमिया होने के कारण

-गलत खान-पान
-वजन अधिक होना
-डायबिटीज
-जेनेटिक
-सोरायसिस
-अल्कोहाल का सेवन

चलिए अब आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताते हैं जिससे आप यूरिक एसिड को कंट्रोल कर सकते हैं...

अधिक पीएं पानी

यूरिक एसिड को कंट्रोल करने के लिए सबसे जरूरी है कि आप अधिक मात्रा में पानी पीएं। दिनभर में कम से कम 8-9 गिलास पानी पीने से किडनी एक्टिव रहेगी और एसिड शरीर से बाहर निकल जाएगा।

PunjabKesari

नींबू पानी

इसमें विटामिन सी होता है, जो शरीर में यूरिक एसिड की मात्रा को कंट्रोल करता है। इसके लिए रोजाना 1 गिलास गुनगुने पानी में नींबू और शहद डालकर खाली पेट पीएं।

बेकिंग सोडा

1 गिलास पानी में 1/2 चम्मच बेकिंग सोडा मिलाकर हफ्ते में 2 बार पीएं। यह नुस्खा यूरिन के रास्ते एसिड को निकालने में मदद करेगा।

अजवाइन

भोजन के बाद गुनगुने पानी के साथ चुटकीभर अजवाइन लें। इसके अलावा भोजन पकाते वक्त भी अजवाइन का इस्तेमाल करें। इससे यूरिक एसिड कंट्रोल होगा।

सेब का सिरका

सेब का सिरका भी यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में काफी कारगार है। इसके लिए 1 गिलास गुनगुने पानी में 2 टीस्पून सिरका डालकर पीएं।

खीरे का जूस

पोटैशियम और फॉस्फोरस से भरपूर खीरे का रस भी किडनी को डिटॉक्स करता है, जिससे यूरिक एसिड कंट्रोल में रहता है।

PunjabKesari

Related News