19 JANTUESDAY2021 10:48:13 AM
Nari

सीने-पेट की जलन से परेशान लोग खाएं गुलकंद, सारा दिन रहेगी ठंडक

  • Edited By Harpreet,
  • Updated: 13 Jun, 2020 11:03 AM
सीने-पेट की जलन से परेशान लोग खाएं गुलकंद, सारा दिन रहेगी ठंडक

गुलकंद का इस्तेमाल मीठे पान से लेकर कई आयुर्वेदिक दवाओं में किया जाता है। यहां से पता चलता है कि स्वादिष्ट होने के साथ साथ गुलकंद सेहत के लिए भी फायदेमंद होती है। गर्मियों में गुलकंद का सेवन करने से शरीर को ठंडक मिलती है। कुछ लोग गर्मियों में थकान, सुस्ती और शरीर पर खुजली जैसी समस्याओं का सामना करते हैं, ऐसे में गुलकंद का सेवन शरीर को ऐसी कई परेशानियों से दूर रखता है।

nari

घर पर कैसे तैयार करें गुलकंद?

- गुलाब की पंखुड़ियां - 250 ग्राम
- मिश्री या फिर शुगर फ्री चीनी - 250 ग्राम
- छोटी इलायची का पाउडर - 1 चम्मच
- पिसी हुई सौंफ - 1 चम्मच

गुलकंद बनाने का तरीका...

- गुलाब की पंखुड़ियों को अच्छी तरह धोकर सुखा लें।
- सुखाने के बाद इसे कांच के बर्तन में डालकर, ऊपर से चीनी डाल दें।
- कुछ देर तक चीनी पानी छोड़ने लगेगी, जब पूरी तरह चीनी घुल जाए तो बर्तन को धूप में रख दें।
- बीच-बीच में इसे हिलाते जरूर रहें।
- जब गुलाबों का रंग डार्क रेड हो जाए, तो समझ जाएं आपका गुलकंद तैयार है। 
- इसका सेवन हर रोज दूध के साथ करें।

nari

गुलकंद खाने का सही तरीका...

गुलकंद का सेवन आप दूध या पानी के साथ दिन में एक या दो बार कर सकते हैं। बच्चों के लिए दिन में 1 से 2 ग्राम, 15 से 40 साल के लोग 5 से 10 ग्राम या 20 ग्राम का भी सेवन कर सकते हैं, प्रेगनेंट औरतें दिन में 2 से 5 ग्राम, बूढ़े लोग 5 से 10 ग्राम गुलकंद का सेवन आराम से कर सकते हैं।

गुलकंद के फायदे

 

पेट के लिए फायदेमंद

गुलकंद में विटामिन- सी, ई और बी अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं। पेट से जुड़ी हर समस्या जैसे कि पेट में मरोड़, कब्ज, गैस, अपच जैसी परेशानियों में गुलकंद का सेवन करने से लाभ मिलता है। जो लोग पेट में एसिड या सीने में जलन से परेशान रहते हैं, उन्हें आधा चम्मच गुलकंद का सेवन हर रोज सुबह खाली पेट करना चाहिए।

प्रेगनेंसी में फायदेमंद

प्रेंगनेंट महिलाओं को कई बार कब्ज की समस्या रहने लगती है। गुलकंद का सेवन करने से आंतो की सफाई अच्छे से होती है। यह आपके पाचन को सुधारने और मेटाबॉलिज्म को भी स्ट्रांग बनाने में मदद करती है। गुलकंद खाने से आपको भूख भी अच्छी लगती है।

nari

त्वचा के लिए फायदेमंद

आप गुलकंद को चेहरे पर भी लगा सकते हैं। इससे चेहरे पर गुलाबी निखार आएगा, चेहरे की मृत कोषिकाएं फिर से जीवित हो जाएंगी। अगर आप हर रोज गुलकंद खाते हैं तो चेहरे पर अंदरूनी निखार भी बरकरार रहेगा।

मुंह के छाले

गर्मियों में कई लोगों के मुंह में छाले हो जाते हैं। ऐसा कई बार पेट में गर्मी बढ़ने की वजह से हो सकता है। गुलकंद पेट को ठंडक प्रदान करती है। जिससे मुंह के छाले अपने आप खत्म हो जाती है। 

nari

Related News