15 JULMONDAY2024 9:13:29 PM
Nari

Viparita Karani Asana: बीमारी को जड़ से खत्म कर देगा ये आसन, दवाइयों से मिलेगा छुटकारा

  • Edited By Manpreet Kaur,
  • Updated: 20 Jun, 2024 05:13 PM
Viparita Karani Asana: बीमारी को जड़ से खत्म कर देगा ये आसन, दवाइयों से मिलेगा छुटकारा

नारी डेस्क: योगा शारिरिक सेहत के लिए जहां वरदान है वहीं ये शरीर से जुड़ी कई तरह की बीमारियों से भी हमें मुक्त करवाने में लाभदायक है। वैसे तो हर योगा हमारी बॉडी को अलग-अलग तरह से फायदे पहुंचाता है, लेकिन हम आपको अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर बताएंगे एक ऐसे आसन के बारे में जिसे रोजाना करने से आप हमेशा रोग मुक्त रहेंगे। इसे करने से बड़ी से बड़ी सेहत से जुड़ी दिक्क्तों से आप आसानी से छुटकारा पा सकते हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं 'विपरीता करणी' आसन के बारे में। 

आपको बता दें कि इस आसन को लेग्स अप द वॉल पोज़ (Legs Up the Wall pose) भी कहा जाता है। ये न सिर्फ अच्छी सेहत के लिए बल्कि स्किन और बालों के लिए बेहद लाभदायक होता है। इसी के साथ चलिए आपको बताते हैं इसके फायदे और इस आसन को करने के तरीके के बारे में -

विपरीतकरणी आसन के फायदे-

कब्ज़ की समस्या से मिलती है राहत 

विपरीत करणी आसन कब्ज़ की शिकायत दूर करता है और पाचनतंत्र को हेल्दी रखता हैं। 

PunjabKesari

सेहत से जुडी कई परेशानियों से मिलती है राहत 

यह आसन मूत्र संबंधी विकार, हाई और लो ब्लड प्रेशर के साथ गठिया में भी फायदेमंद है।

इम्युनिटी को करता है बूस्ट 

इस आसन को करने से इम्युनिटी भी सुधरती है। 

सही होता है रक्त का प्रभाव 

इस आसन में सिर नीचे और पैर ऊपर की तरफ होता है जिससे सिर में ताजा रक्त जाता हैं जो हल्के अवसाद और अनिद्रा की समस्या से छुटकारा दिलाता है। इसके साथ ही माइग्रेन और सिरदर्द में भी राहत मिलती है।

पीठ दर्द से मिलती है राहत 

विपरीत करणी हल्के पीठ दर्द से भी राहत दिलाता है। ऐसे में आप ध्यान से इस आसन को करते हैं तो आपकी ये परेशानी खत्म।  

PunjabKesari

विपरीतकरणी आसन करने का तरीका

- मैट पर पीठ के बल लेट जाएं।

- सांस भरते हुए दोनों पैरों को ऊपर उठाएं। अपर बॉडी को मैट पर ही रखना है। 

- पैरों को 90 डिग्री तक ऊपर उठाना है।

- कंफर्टेबल पोजीशन के लिए अपने हिप्स के नीचे तकिए या कंबल को मोड़ के रख लें।

- इस पोजीशन में कम से कम 5 मिनट के लिए रुके फिर आरामदायक अवस्था में आ जाएं।

PunjabKesari

सावधानियां-

- इस आसन को पीरियड्स के दौरान ना करें।

- अगर आपको मोतियाबिंद की समस्या है तो इस आसन को करना अवॉयड करें।

- पीठ दर्द की समस्या में भी इस आसन को न करें।

- ग्लूकोमा, हाई ब्लड प्रेशर या हर्निया के रोगियों को इस आसन को नहीं करना चाहिए।
 

Related News