07 JULTUESDAY2020 5:37:39 AM
Nari

Vastu Tips:  कलह कलेश की वजह बनती है गलत दिशा में बनी सीढ़ियां

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 22 Jun, 2020 04:45 PM
Vastu Tips:  कलह कलेश की वजह बनती है गलत दिशा में बनी सीढ़ियां

घर की छत या एक फ्लोर से दूसरे फ्लोर तक आसानी से पहुंचाने के लिए सीढ़ियां तो हर किसी के घर में होगी। मगर, सीढ़ियों का काम सिर्फ इतना ही नहीं है। वास्तु के अनुसार, घर की सीढ़ियां घर में सुख-समृद्धि, बिजनेस में तरक्की आदि के रास्ते भी खोलती है। अगर सीढ़ियां नियम अनुसार बनी हो तो घर में सुख-समृद्धि का वास रहता है। वहीं अगर अगर इन्हें बनवाते समय नियमों का ध्यान ना रखा जाए तो यह धन हानि, कलह-कलेश का कारण भी बन सकती है।

चलिए आज हम आपको सीढ़ियों से जुड़े कुछ ऐसे वास्तु टिप्स बताते हैं, जो हर किसी के लिए जानना जरूरी है।

सीढ़ियों से जुड़े जरूरी नियम

सीढ़ियां हमेशा ऑड नंबर यानि विषम संख्या (1,3,5,7,9) में होनी चाहिए और इसके नीचे मंदिर नहीं बना होना चाहिए। इसकी बजाए आप स्टोर रूम बनवा सकते हैं।

22 Gorgeous Painted Stair Ideas

सीढ़ियां बनवाने की सही दिशा

सीढ़ियां उत्तर और उत्तर पूर्व दिशा में ना बनाएं। सीढ़ियां बनाने के लिए सबसे अच्छी जगह दक्षिण पश्चिम का कोना है। इसके अलावा आप दक्षिण या पश्चिम दिशा में भी सीढ़ियां बनवा सकते हैं। दक्षिण पूर्व की ओर सीढ़ियां बनवा रहे हैं तो इनका मुख पूर्व की ओर रखे। वहीं दक्षिण-पश्चिम की ओर सीढ़ियां बनवाते समय पश्चिम की तरफ मुख रखें। उत्तर पश्चिम की सीढ़ी का मुख उत्तर की ओर रखें और दक्षिण पश्चिम की सीढ़ियों का मुख दक्षिण की ओर रखें। 

12 Black Stairs That Add A Sophisticated Touch To These Modern Homes

हो सकती हैं धन व स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं

गलत दिशा में बनी सीढ़ियां वित्तीय समस्याएं, संपत्ति की हानि, कर्जा का कारण भी बन सकती है। इसके अलावा इससे एक्सीडेंट, गंभीर स्वास्थ्य समस्याएं, बच्चों का बीमार होना, श्वास से जुड़ी समस्याएं, ब्लड रिलेटेड परेशानियां हो सकती हैं। यह घर के सदस्यों के बीच तनाव, मतभेद और स्ट्रेस भी बढ़ा सकती हैं।

ऐसी सीढ़ियां होती है शुभ

. सीढ़ियों से ऊपर जाते हुए पश्चिम या दक्षिण दिशा में जाना अच्छा रहता है। वहीं सीढ़ियों से उतरते हुए पूर्व और उत्तर की दिशा अच्छी मानी जाती है। कोशिश करें कि सीढ़ियों को क्लॉक वाइज बनाएं।
. हमेशा सीढ़ियों पर हल्के रंग जैसे क्रीम, सफेद, पेस्टल कलर करवाएं। इससे आंखों को सुकून मिलता है और धन हानि भी नहीं होती। मगर, लाल या काला रंग करवाने से बचें।
. ध्यान रखें कि अगर सीढ़ियां टूट गई हैं तो उनकी मरम्मत करवा लें। माना जाता है कि टूटी हुई सीढ़ियां परिवार में तनाव बढ़ाती है।

Interior Stair Design Custom Made Wooden Spiral Staircase - China ...

वास्तु से जुड़े अन्य आर्टिकल्स पढ़ने के लिए नारी केसरी में विजिट करें।

Related News