03 MARWEDNESDAY2021 3:21:43 AM
Nari

फेफड़ों के लिए बेस्ट हैं ये 9 आहार, बीमारियों से रहेगा बचाव

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 16 Nov, 2020 07:06 PM
फेफड़ों के लिए बेस्ट हैं ये 9 आहार, बीमारियों से रहेगा बचाव

बीमारियों से बचने के लिए सभी को इम्यूनिटी स्ट्रांग करने की सलाह दी जाती है। कोरोना महामारी के संकट में फेफड़ों का खासतौर पर ध्यान रखने की जरूरत है। फेफड़ों में इंफेक्शन होने से सांस लेने में दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही में सांस से जुड़ी बीमारियों के होने का खतरा भी बढ़ता है। इसके अलावा प्रदूषण, स्मोकिंग आदि के कारण भी फेफड़े बीमार पड़ने लगते हैं। इसके लिए खाने में कुछ चीजों को शामिल करने की जरूरत है जिससे फेफड़ों को मजबूती मिल सके और वे स्वस्थ रहे। तो चलिए आज हम आपको 5 ऐसे सुपर फूड्स के बारे में बताते है जिनके सेवन से आपके फेफड़ों को मजबूती मिलने के साथ इंफेक्शन और बीमारियों के लगने का खतरा कम होगा।

हल्दी 

एंटी- बैक्टीरियल, एंटी- वायरल, एंटी- इंफ्लेमेट्री गुणों से भरपूर हल्दी का सेवन करने से शरीर की इम्यूनिटी बढ़ती है। ऐसे में इंफेक्शन, मौसमी सर्दी-जुकाम, बुखार होने से बचाव रहता है। इसमें मौजूद एंटी- ऑक्सीडेंट तत्व फेफड़ों को सुचारू ढंग से काम करने में मदद करते है। आप हल्दी को खाने में मसाले के तौर पर इस्तेमाल करने के साथ रोजाना गर्म दूध में मिक्स कर भी पी सकते है। 

PunjabKesari

अदरक

अदरक खांसी को ठीक करने में काफी मददगार होती है। इसके यह फेफड़ों की सूजन और इन्फेक्शन को भी दूर करती है। अदरक में बहुत से गुण पाए जाते हैं जो इम्यूनिटी को बढ़ाने में फायदेमंद है। 

Vitamin C युक्त फूड 

विटामिन सी युक्त आहार कई तरह की बीमारियों को ठीक करने में मददगार है। इसके अलावा विटामिन सी फेफड़ों को प्रदूषण से भी बचाता है।  विटामिन सी युक्त फूड आइटम्स में नीबू, संतरा, आंवला, हरी सब्जियां, टमाटर और आलू शामिल होते हैं। 

फ्लैक्सीड 

ओमेगा 3 फैटी एसिड और फाइटोएस्ट्रोजन से भरपूर फ्लैक्सीड दिल के स्वास्थ्य की रक्षा करता है। फ्लैक्सीड अस्थमा के मरीजों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। आप चाहें तो फ्लैक्सीड को सलाद में या फिर भूनकर हेल्दी स्नैक के तौर पर खा सकते हैं। 

PunjabKesari

अखरोट 

ओमेगा-3 फैटी एसिड से भरपूर अखरोट दिमाग को स्वस्थ रखने के साथ फेफड़ों को भी हेल्दी रखते हैं। डाइट में रोजाना 1 मुट्ठी अखरोट जरूर खाएं। आप चाहें तो अखरोट की स्मूदी बनाकर भी पी सकते हैं। यह अस्थमा मरीजों के लिए भी फायदेमंद है।

गुड़ 

गुड़ का सेवन करने से शरीर का हीमोग्लोबिन स्तर बढ़ता है। जिससे सांस लेने में हो रही दिक्कत से छुटकारा मिलता है। कहा जाता है कि रात को सोने से पहले गुड़ का सेवन करने से शरीर में इकट्ठा हुए टॉक्सिंस बाहर निकल जाते हैं।

टमाटर 

सब्जी में डालकर या सलाद के तौर पर खाएं जाने वाला टमाटर भी फेफड़ों को स्ट्रांग करने में मदद करता है। इसमें मौजूद लाइकोपीन नामक तत्व जो एक प्रकार का एंटी-ऑक्सीडेंट तत्व है फेफड़ों को सही तरीके से काम करने में मदद करता है। नियमित रूप से टमाटर का सेवन करने से सांस से जुड़ी समस्याएं कम होती है। अस्थमा के मरीजों को रोजाना इसका सेवन जरूर करना चाहिए। इसे सब्जी में डालने के अलावा सलाद, सूप या जूस के तौर पर भी सेवन किया जा सकता है। 

मछली 

मछली का सेवन फेफड़ों के लिए फायदेमंद होता है। इनमें पर्याप्त मात्रा में ओमेगा-3 फैटी एसिड होता है, जो फेफड़ों को स्वस्थ रखने में मदद करता है। साथ ही इससे आंखों की रोशनी भी मजबूत होती है।

PunjabKesari

पालक 

बीटा कैरोटीन, जियाजैंथिन, ल्यूटिन और क्लोरोफिल से भरपूर पालक इम्यूनिटी बढ़ाने में काफी मददगार है। इसके अलावा पालक एंटी कैंसर गुणों से भी भरपूर होता है। जो फेफड़ों के कैंसर से बचाता फायदेमंद है। सर्दियों के मौसम में पालक का सेवन फेफड़ों को मजबूत बनाता है। 

Related News