14 OCTMONDAY2019 11:29:08 AM
Nari

सऊदी अरब में बुर्के को छो़ड़ वेस्टर्न ड्रेस में दिखी महिलाएं, जानिए क्यों?

  • Edited By khushboo aggarwal,
  • Updated: 16 Sep, 2019 12:55 PM
सऊदी अरब में बुर्के को छो़ड़ वेस्टर्न ड्रेस में दिखी महिलाएं, जानिए क्यों?

आज यहां एक तरफ महिलाएं आसमान में उड़ने की बात कर रही है वहीं कई देशों में महिलाओं की पवित्रता को उनके कपड़ों के साथ जोडा जाता है। जो महिला खुद को पूरी तरह से कपड़ों के साथ ढक कर रखती है वह उतनी ही पवित्र व साफ मानी जाती है। महिलाओं के लिए ऐसे कानून मुसलमान देश जैसे सऊदी अरब में पूरी सख्ती के साथ लागू किए जाते है लेकिन हाल ही में इस कानून में बदलाव दिखा। कुछ दिन पहले सऊदी अरब की सड़कों पर महिलाएं बुर्के को छोड़ कर वेस्टर्न ड्रेस में घूमती हुई नजर आई। 

 

इस बदलाव का कारण कुछ दिन पहले सऊदी प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान ने एक इंटरव्यू में कहा था कि महिलाओं की ड्रेस कोड में छूट दी जा सकती है उनके लिए बुर्का पहना जरुरी नही हैं। बुर्का इस्लाम में अनिवार्य नही हैं, जिस कारण कोई नियम न होने पर भी यह चलन चल रहा है। यह बात सुन कर वहां की महिलाओं ने बुर्का पहनना बंद कर दिया हैं। 

वेस्टर्न ड्रेस में घूमती नजर आई महिलाएं

इस बात के बाद 33 साल की मशाल अल जालुद मॉल में ट्राउजर व गहरे नारंगी रंग की टॉप में घूमती हुई नजर आई। इतना ही नही इसके साथ ही 25 साल की सामाजिक कार्यकर्ता मनाहेल-अल ओतैबी (Manahel al-Otaibi) भी वेस्टर्न कपड़ों में सड़कों पर घूमती हुई नजर आई। महिलाओं द्वारा इससे पहले भी ऐसे कट्टर नियमों के खिलाफ आवाज उठाई गई थी लेकिन अब प्रिंस के इंटरव्यू के बाद उनका हौंसला बढ़ गया हैं। 

PunjabKesari,Nari

लोगों ने पुलिस में शिकायत करने की दी धमकी 

जब महिलाएं वेस्टर्न कपड़े पहन कर बाहर निकली तो लोगों ने उन्हें धमकी दी। इतना ही नही कुछ ने उन्हें पुलिस में शिकायत करने की बात कही। वहीं जालुद ने कहा कि प्रिंस ने कहा कानून बहुत साफ है, शरिया में भी लिखा है कि महिलाओं को शालीन व सम्मानजनक कपड़ने पहनने चाहिए, पुरुषों की तरह। यह कहीं भी नही कहा गया है कि महिलाओं को काला बुर्का ही पहनना है। 

PunjabKesari, Nari

महिलाओं ने सोशल मीडिया पर शुरु किया अभियान

बुर्का न पहनने को लेकर वहां की महिलाओं ने कुछ महीने पहले सोशल मीडिया पर एक मुहिम शुरु की थी। वहीं मनाहेल-अल ओतैबी ने कहा- ‘पिछले चार महीने से मैं बिना बुर्के के रह रही हूं। मैं बिना प्रतिबंधों के जीना चाहती हूं। किसी को भी मुझे वह पहनने के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए, जो मैं चाहती ही नहीं हूं।’

PunjabKesari,Nari

 

 

लाइफस्टाइल से जुड़ी लेटेस्ट खबरों के लिए डाउनलोड करें NARI APP

Related News