31 OCTSATURDAY2020 9:40:49 AM
Nari

पापा के शौक को बनाया बिजनेस, आज करोड़ों रुपए कमा रहीं बेटी

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 09 Oct, 2020 05:32 PM
पापा के शौक को बनाया बिजनेस, आज करोड़ों रुपए कमा रहीं बेटी

आजकल बच्चे पढ़ लिखकर या तो अपना बिजनेस खोलते हैं या विदेश में जाकर हाई सैलेरी वाली जॉब करते हैं। मगर, हम यहां आपको एक ऐसी बेटी के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने पिता के शौक को बिजनेस में बदल दिया और आज वह करोड़ों में कमाई कर रही हैं। हम बात कर रहे हैं... दिल्ली में पली बढ़ी निहारिका भार्गव की जिसने अपने पिता के अचार के शौक को बिजनेस में तबदील किया।

PunjabKesari

लंदन से की मास्टर्स की पढ़ाई

निहारिका ने लंदन के कॉलेज से स्ट्रेटेजी एंड इनोवेशन में मास्टर्स की पढ़ाई की। 2015 में वह अपनी पढ़ाई पूरी कर भारत वापिस आई थी। शुरूआत में वह किसी मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी ढूंढ रही थी, जिसमें उन्हें काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा। मगर, फिर वह गुड़गांव की एक मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब करने लगी। मगर, उनके मन में खुद का बिजनेस शुरू करने का सपना था इसलिए उन्होंने कुछ दिनों में ही नौकरी छोड़ दी।

PunjabKesari

पापा के शौक को बनाया बिजनेस

एक दिन उन्होंने अपने पिता को अचार तैयार करते हुए देखा और मजाक में ही इसका बिजनेस शुरू करने की बात कह दी। हालांकि तब उनके पिता ने इस बात को हंसी में टाल दिया लेकिन निहारिका के दिमाग में यह आइडिया घर कर गया। फिर क्या वह अपने पापा के बनाए अचार को दिल्ली और उसके आस-पास प्रदर्शनी के लिए लेकर गई। धीरे-धीरे उन्होंने लोकल मार्केट में आचार बेचना शुरू किया, जहां उन्हें अच्छी रिस्पॉन्स मिला। फिर उन्होंने 2017 में  गुड़गांव में ही 'द लिटिल फार्म' कंपनी शुरू की और ऑनलाइन प्रोडक्ट्स अचार बेचना भी शुरू किया।

PunjabKesari

आज 1 करोड़ है कंपनी का टर्नओवर

जब उनका काम अच्छा चलने लगा तो उन्होंने मध्यप्रदेश के खजुराहो में एक जमीन ली और अचार बनाने का सामान उगाना शुरू किया। देखते ही देखते उनका बिजनेस पटरी पर आ गया और महज 3 साल में ही उनकी कंपनी का टर्नओवर 1 करोड़ रु. तक पहुंचा गया।

खुद उगाती हैं अचार का समान

आज निहारिका की कंपनी 50 से अधिक वैरायटी के अचार बनाती है, जिसमें 15-20 लोगों की टीम उनकी मदद करती है। बता दें कि उनकी इस टीम में 10 सदस्य महिला कर्मचारी हैं। वह 50 से ज्यादा वैरायटी के अचार बेचती हैं, जिसमें आम और गुड़ की डिमांड सबसे ज्यादा होती है। निहारिका इसमें शक्कर या चीनी की बजाए गुड़ मिलाती हैं। उन्होंने अपने पापा से ही अचार बनाना सिखा जो उनके लिए काम का साबित हुआ। खास बात तो यह है कि उनके अचार में सिंथेटिक सिरका या कोई प्रिजर्वेटिव्स नहीं होता। साथ ही अचार के लिए वह आम, आंवला, नींबू, हल्दी, अदरक, मिर्च सहित कई प्लांट्स खुद ही उगाती हैं। साथ ही वह साधारण की बजाए सेंधा नमक यूज करती हैं, ताकि लोगों की सेहत खराब न हो।

PunjabKesari

Related News