30 OCTFRIDAY2020 2:08:57 PM
Nari

असंतुलित हार्मोंन्स को बैलेंस में लाते हैं यह बीज, महिलाओं के लिए वरदान

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 19 Sep, 2020 10:38 AM
असंतुलित हार्मोंन्स को बैलेंस में लाते हैं यह बीज, महिलाओं के लिए वरदान

गलत खान-पान, अधिक दवाइयों का सेवन, तनाव या अन्य कारणों से महिलाओं के हार्मोन्स असंतुलित हो जाते हैं। इन्हें बैलेंस में रखना शरीर के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि इसका संतुलन बिगड़ने से महिलाओं को बहुत सी बीमारियां घेर लेती हैं। जैसे कि वजन बढ़ने लगना, चिड़चिड़ापन। जबकि कई महिलाओं को पॉलीसिस्टिक डिम्बग्रंथि सिंड्रोम यानि (PCOS) हो जाता है।

PunjabKesari

ऐसे में महिलाओं के लिए अच्छा खान पान व अपनी सेहत का ध्यान रखना बहुत जरूरी होता है। हालांकि इसके लिए महिलाओं को सुबह शाम ढेर सारी दवाईयां भी खानी पड़ती हैं लेकिन आप इसे अच्छे खान पान और एक ऐसे बीज से ठीक कर सकती हैं और वह बीज हैं कद्दू के बीज। तो चलिए पहले आपको बताते हैं कि होर्मोन असंतुलन से आपका शरीर आपको क्या संकेत देता है। 

हार्मोन असंतुलन के लक्षण

- बाल झड़ने लगना
- ज्यादा गुस्सा आना
- तनाव महसूस होना
- इंटरकोर्स में अरूचि
- याददाश्त का कमजोर होना

PunjabKesari
- वेट बढ़ना
-  पीरियड्स का ठीक से न आना 
- त्वचा पर पिंपल्स
- नींद आना
- थकावट महसूस होना
- ज्यादा भूख लगना

तो चलिए अब हम आपको बताते हैं कि कद्दू के बीज कैसे कारगर हैं और आप उनका सेवन कैसे कर सकती हैं।

कैसे कारगर हैं कद्दू के बीज? 

कद्दू के बीजों का सेवन करने से होर्मोन संतुलन बना रहता है। इससे PCOS की समस्या भी खत्म हो जाती है और जिन महिलाओं को पीरियड ठीक समय पर नहीं आते हैं तो वह भी समस्या इस बीज से खत्म हो जाएगी। 

ऐसे करें कद्दू के बीजों का सेवन 

चलिए अब हम आपको बताते हैं कि आप कद्दू के बीजों का सेवन कैसे कर सकते हैं। आप चाहे तो इन बीजों को भुन कर भी खा सकते हैं या फिर आप इन बीजों को पीसकर पाउडर के रूप में भी खा सकते हैं। 

PunjabKesari

- आप चाहे तो इन बीजों को सलाद के उपर भी डालकर खा सकते हैं। 
- सब्जियों, दालों में भी आप इसके बीज डालकर खा सकते हैं। 

किस वक्त करें इसका सेवन 

- पीरियड आने से 2 हफ्ते पहले आप इसे खाना शुरू कर दें। 
- दिन में 2 बार इसका सेवन करें। 

नोट- इन बीजों का सेवन करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें क्योंकि कईं बार कईं महिलाओं को यह कद्दू के बीज पचते नहीं हैं। इसलिए डॉक्टर से बिना पूछे इसका सेवन न करें। 

Related News