03 MARWEDNESDAY2021 2:53:16 AM
Nari

आईब्रो पर बार-बार क्यों होते हैं एक्ने और पिंपल्स, इन देसी टिप्स से पाएं छुटकार

  • Edited By Bhawna sharma,
  • Updated: 20 Dec, 2020 12:20 PM
आईब्रो पर बार-बार क्यों होते हैं एक्ने और पिंपल्स, इन देसी टिप्स से पाएं छुटकार

तनाव, खान-पान, प्रदूषण, तैलीय त्वचा, मेकअप और हार्मोंस में बदलाव के कारण चेहरे पर पिंपल्स निकलना आम बात है। मगर कई बार एक ही जगह पर बार-बार मुंहासे हो जाते हैं। चेहरे का सबसे आकर्षित अंग आंखों को खूबसूरत बनाने के लिए महिलाएं थ्रैडिंग का सहारा लेती हैं। हालांकि कुछ लोग थ्रैडिंग करवाने से कतराते हैं क्योंकि थ्रैडिंग के बाद अक्सर पिंपल्स की समस्या सुनने को मिलती है। ऐसे स्किन के सैंसटिव होने की वजह से होता है। अगर आप भी थ्रैडिंग के बाद होने वाले पिंपल्स की वजह से परेशान होते हैं तो यहां दिए गए कुछ स्टेप्स को फॉलो करें।

PunjabKesari

आईब्रो पर क्यों होते हैं पिंपल्स

आईब्रो पर वैक्सिंग और थ्रेडिंग करने से

थ्रेडिंग करते समय चिमटी से आईब्रो के बालों को निकालना या फिर उस पर वैक्सिंग करने से ब्रेकआउट होता है। इस वजह से  हेयर फॉलिकल यानि फॉलिकुलिटिस की समस्या हो सकती है। जिस कारण आईब्रो वाली जगह पर एक्ने और पिंपल्स होने लगते हैं। इससे बचने के लिए आप चाहें तो किसी अच्छे स्किन स्पेशलिस्ट से संपर्क कर सकते हैं या फिर एंटीसेप्टिक क्लीन्जर का इस्तेमाल करें। इसके अलावा पुदीना और तुलसी का फेसपैक बनाकर भी पिंपल्स पर लगा सकते हैं। 

PunjabKesari

ब्लड सर्कुलेशन 

पिंपल्स का एक कारण ब्लड सर्कुलेशन का सही ना होना भी है। एक्सरसाइज और योगा से अपने शरीर के ब्लड सर्कुलेशन को सही रखें। इसके साथ ही नीम और करेले का जूस शरीर को डिटॉक्स करने के लिए काफी फायदेमंद है। इसके अलावा रात को सोने से पहले मुंह धोकर अच्छी क्रीम या फिर नारियल तेल से आईब्रो मसाज करें। 

आईब्रो मेकअप

मार्किट से मिल रहे ब्यूटी प्रोडक्ट में कई तरह के केमिक्ल पाए जाते हैं। जो चेहरे पर मुहांसों का कारण बनते हैं। आईब्रो मेकअप  बालों के स्वास्थ्य के लिए बेहद हानिकारक होता है। मेकअप प्रोडक्टस बालों की जड़ों को नुकसान पहुंचाते हैं जिससे पिपंल्स होने लगते हैं। ऐसे में ऑयली क्लीन्जर के साथ आईब्रो की सफाई करें। इसके अलावा बंद पोर्स को खोलने के लिए गर्म पानी की भाप लें सकते हैं। 

PunjabKesari

टी-जोन के ऑयली होने के कारण

माथे, नाक और ठुड्डी पर चेहरे के बाकी हिस्सों के मुताबिक टी-जोन ज्यादा ऑयली होता है। जिस वजह से ब्रेकआउट होने लगता है और पोर्स में गंदगी भर जाती है जो पिंपल्स का कारण बनती है। इससे छुटकारा पाने के लिए अपने स्किनकेयर रूटीन में रेटिनॉल को शामिल करें। 

Related News