18 MAYWEDNESDAY2022 5:16:05 AM
Nari

चौथी लहर का बढ़ा खतरा! WHO की चीफ साइंटिस्ट ने लोगों काे बचने के बताए तरीके

  • Edited By vasudha,
  • Updated: 25 Apr, 2022 03:06 PM
चौथी लहर का बढ़ा खतरा! WHO की चीफ साइंटिस्ट ने लोगों काे बचने के बताए तरीके

कोरोना वायरस महामारी ने एक बार फिर दुनिया को डराना शुरु कर दिया है। संक्रमण के बढ़ते मामलों से स्थिति गंभीर हो गई है। जहां एक तरफ  चीन की राजधानी बीजिंग  ‘हाई अलर्ट’ पर है, वहीं दूसरी तरफ WHO की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने Omicron BA.2 को लेकर नई चेतावनी जारी की है।

PunjabKesari
सभी नियमों का पालन करना जरूरी

एक  निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में स्वामीनाथन ने कहा कि-  कोरोना  हवा में प्रसारित होने वाला वायरस है जिसमें बंद, खराब वेंटिलेशन वाले भीड़-भाड़ वाले स्थान जोखिम में हैं। इसलिए जब तक लोगों में कोविड का प्रसार जारी है, सावधानी बरतना अच्छा है। उनका कहना हैकि कोरोना से बचने के लिए सभी नियमों का पालन करना जरूरी है।

 

इन बातों कर रखें ध्यान

कोविड से बचाव के सभी नियमों को मानें।
हर कोई अच्छी तरह से फिट होने वाला फेस मास्क पहनें
जिन लोगों को सांस की बीमारी के लक्षण हैं वे घर पर रहें।
सभी को हाथ धोते रहना चाहिए।
संक्रमण बढ़ने पर सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को कड़ा किया जाना चाहिए।

PunjabKesari
लॉकडाउन की आवश्यकता नहीं: स्वामीनाथन

डब्ल्यूएचओ विशेषज्ञ ने यह भी संकेत दिया कि भविष्य में किसी अन्य लॉकडाउन जैसे उपाय की आवश्यकता नहीं है, लेकिन एहतियात के तौर पर सभी लोगों को मास्क पहनना चाहिए। वहीं इसी बीच एक अध्ययन में यह बात सामने आई है कि कोविड रोधी टीका न लगवाने वाले लोग उन लोगों के लिए भी खतरा पैदा करते हैं जिन्होंने टीकाकरण करा लिया है।

PunjabKesari
इन लोगों को ज्यादा खतरा

 जब टीकाकरण करा चुके लोग, टीका न लगवाने वाले लोगों के साथ मिश्रित होते हैं तो टीकाकरण करा चुके लोगों में संक्रमण के काफी नए मामले आ सकते हैं, भले ही टीकाकरण की दर ज्यादा क्यों न हो। अध्ययन में कहा गया है कि टीका न लगवाने से खतरा सिर्फ उन लोगों को नहीं होगा जिन्होंने टीकाकरण नहीं कराया है बल्कि उनके आसपास के लोगों को भी होगा।

 

Related News