04 MARTHURSDAY2021 12:30:25 AM
Nari

Research: इन 5 जीन वाले लोगों के लिए खतरे से कम नहीं कोरोना!

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 13 Dec, 2020 12:25 PM
Research: इन 5 जीन वाले लोगों के लिए खतरे से कम नहीं कोरोना!

कोरोना वायरस की जंग में जैसे जैसे देश दुनिया की वैक्सीन को अप्रूवल मिल रहे हैं वैसे वैसे लोगों को राहत मिल रही है। हालांकि अभी वैक्सीन पूरी दुनिया के लोगों के लिए उपलब्ध नहीं की गई है लेकिन लोगों ने अब इस वायरस के जाने के सपने देखने शुरू कर दिए हैं। बात आंकड़ों की करें तो मामले लगातार बढ़ रहे हैं लेकिन इस बीच इस वायरस पर नई नई रिसर्च भी सामने आ रही हैं। अभी तक वैज्ञानिकों ने इस बात पर रिसर्च की थी कि किन ब्लड ग्रुप के लोगों को कोरोना से अधिक खतरा  है वहीं हाल ही में अब वैज्ञानिकों ने जीन्स पर रिसर्च की है और बताया है कि किन जीन वाले लोगों को कोरोना से अधिक खतरा हो सकता है।

PunjabKesari

इन 5 जीन वाले लोगों को कोरोना का अधिक खतरा 

ब्रिटेन की एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी के रिसर्चर्स की मानें तो जिन लोगों को कोरोना से गंभीर रूप से गुजरना पड़ा उनमें TYK2, CCR2, OAS1, IFNAR2 और DPP9 जीन वाले लोग पाए गए और इस रिसर्च में पाया गया कि इन लोगों को कोरोना से सबसे अधिक खतरा है। इतना ही नहीं इन 5 जीन वाले लोगों में गंभीर बीमारी या फिर मौत का खरता भी पाया गया है। 

डेली मेल की रिपोर्ट की मानें तो जिन कुल 2700 के करीब मरीजों पर इसकी स्टडी की गई है उसमें से 22 फीसद लोगों की मौत हो गई और इनमें से 74 फीसद मरीज ऐसे थे जो खुद सांस लेने में सक्षम नहीं थी और ऐसी बुरी हालत में उन्हें वेंटिलेटर की जरूरत पड़ी। 

PunjabKesari

कुछ लोगों के लिए गंभीर बन जाता है कोरोना 

हमने अभी तक बहुत से केस ऐसे देखे हैं जहां कुछ लोग तो कोरोना से गंभीर रूप से बीमार हो जाते हैं लेकिन कुछ में इसके लक्षण भी नजर नहीं आते हैं और वह इससे बिल्कुल भी प्रभावित नहीं होते हैं। इस रिसर्च पर वैज्ञानिकों ने कहा कि उन्हें इसके परिणामों से यह पता लग सकता है कि क्यों कोरोना कुछ लोगों के लिए गंभीर बिमारी बन जाता है। इतना ही नहीं वैज्ञानिक ने यह भी कहा है कि कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित होने वाले जीन की खोज से दवा बनाने में भी उन्हे मदद मिल सकती है। 

हर किसी में कोरोना के अलग-अलग लक्षण 

अक्सर हमें ऐसी खबरें सुनने को मिलती हैं किसी में कोरोना के माइल्ड लक्षण नजर आते हैं तो किसी को वेटिंलेटर तक की आवश्यकता पड़ जाती है। किसी को सिर्फ बुखार आता है तो किसी को कोई लक्षण नहीं दिखते जिससे वह खुद ही ठीक हो जाते हैं। 

PunjabKesari

आज भी एहतियात बरतें 

चाहे कोरोना वैक्सीन की वैक्सीनेशन शुरू हो गई है लेकिन लोगों को आज भी इस वायरस से बचने के लिए पूरी एहतियात बरतनी चाहिए। उन्हें मास्क पहनना चाहिए, बाहर से आकर गर्म पानी से नहाना चाहिए, हाथ धोने चाहिए, भीड़ भाड़ इलाके में कम जाना चाहिए। 

Related News