03 OCTMONDAY2022 11:36:30 PM
Nari

मांसपेशियों को मजबूत कर देगी ये एक एक्सरसाइज, जानिए इसके फायदे

  • Edited By palak,
  • Updated: 07 Aug, 2022 06:15 PM
मांसपेशियों को मजबूत कर देगी ये एक एक्सरसाइज, जानिए इसके फायदे

स्वस्थ शरीर के लिए व्यायाम कितना जरुरी होता है, यह हर कोई जानता है। आपने कई तरह की एक्सरसाइज के बारे में भी सुना होगा, जिनमें से एक एरोबिक एक्सरसाइज भी काफी प्रचलित है। आपने कई बार एरोबिक एक्सरसाइज का नाम सुना होगा। लेकिन क्या आपने कभी एनारोबिक एक्सरसाइज के बारे में सुना है। आज आपको बताएंगे कि एनारोबिक एक्सरसाइज क्या होती है और इससे आपको क्या-क्या फायदे होंगे। तो चलिए जानते हैं इसके बारे में...

PunjabKesari

क्या है एनारोबिक एक्सरसाइज?

एनारोबिक एक्सरसाइज एरोबिक एक्सरसाइज से थोड़ी अलग होती है। इस एक्सरसाइड में हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग, वेट लिफ्टिंग, सर्किट ट्रेनिंग, पिलाटे योगा और कई तरह की स्ट्रेंथ ट्रेनिंग शामिल होती हैं। एरोबिक और एनारोबिक एक्सरसाइज दोनों ही कार्डियोवस्कुलर बीमारियों का कम करने में सहायता करती है। इन दोनों एक्सरसाइज्स के वर्कआउट में इंटेंसिटी, इंटरवल और ऑक्सीजन में थोड़ा सा फर्क होता है। 

PunjabKesari

बॉडी के ग्लूकोज को ब्रेकडाउट करके मिलती है ऊर्जा 

यह एक ऐसी फिजिकल एक्टिविटी होती है, जिसमें ऊर्जा ऑक्सीजन के साथ नहीं बल्कि शरीर में पाए जाने वाले ग्लूकोज को ब्रेकडाउन करके मिलती है। यह एक्सरसाइज कम समय के लिए की जाती है। इसके अलावा इस वर्कआउट करने में थोड़े ही समय में काफी एनर्जी निकल जाती है। इस एक्सरसाइज में ऑक्सीजन की स्पलाई से ज्यादा ऑक्सीजन की जरुरत होती है। इसमें शरीर ऑक्सीजन की जगह ग्लूकोज को एनर्जी के लिए इस्तेमाल करती है। इस एक्सरसाइज में एनर्जी भी ग्लूकोज से ही मिलती है। जब आपका शरीर इंटेंस वर्कआुट करता है तो मसल सेल्स में ग्लूकोज आता है और इसी ग्लूकोज से बॉडी को एनर्जी मिलती है। एनारोबिक एक्सरसाइज में शरीर से काफी लैक्टिक एसिड निकलता है जिसके कारण वर्कआउट के बाद मांसपेशियों में काफी थकान आ जाती है। 

कौन-कौन सी एक्सरसाइज एनारोबिक होती है?

. वेट लिफ्टिंग । 

PunjabKesari
. जंपिंग और स्किपिंग ।
. स्प्रिंटिंग करना । 
. साइकिल चलाना । 
. हाई इंटेंसिटी इंटरवल ट्रेनिंग । 

PunjabKesari

इस एक्सरसाइज के फायदे

. एनारोबिक एक्सरसाइज करने से आप किसी भी तरह के वर्कआउट में फिट हो सकते हैं। इसे करने से आपकी मांसपेशियां मजबूत होती हैं, जिसके बाद आप किसी भी तरह का वर्कआउट कर सकते हैं। 
. इस एक्सरसाइज से हड्डियों भी मजबूत होती हैं। जिससे कि आप हड्डियों से संबंधी समस्याओं से बच सकते हैं। 
.  वेट मेंटेन रहता है और हाई इंटेंसिटी इंटरवेल ट्रेनिंग से आप अपने पेट की चर्बी कम कर सकते हैं। 
. शरीर को मजबूत मिलती है। यदि आप अपना शरीर मजबूत करना चाहते हैं तो ये वर्कआउट कर सकते हैं। 

PunjabKesari
 

Related News