04 DECSATURDAY2021 1:52:18 PM
Nari

सेहत के लिए रामबाण Black Garlic, वजन तो घटेगा ही कैंसर से भी रहेगा बचाव

  • Edited By Anjali Rajput,
  • Updated: 18 Oct, 2021 05:24 PM
सेहत के लिए रामबाण Black Garlic, वजन तो घटेगा ही कैंसर से भी रहेगा बचाव

काली गाजर से लेकर बैंगनी गोभी तक, आपने उन्हें बाजार में जरूर देखा हो लेकिन आज हम आपको काले लहसुन (Black Garlic) के बारे में बताने जा रहे हैं। भारतीय रसोई में सफेद लहसुन का इस्तेमाल खाने का स्वाद बढ़ाने के लिए सफेद लहसुन का इस्तेमाल किया जाता है लेकिन काले लहसुन के बारे में कम ही लोग जानते हैं और इसके फायदों से भी अंजान है।

बता दें कि सफेद लहसुन को फर्मेंट करके इसे तैयार किया जाता है जिसमें ना ही तो तीखी गंध होती है और ना ही तेज स्वाद। सेहत के लिहाज से देखा जाए तो काला लहसुन कई बीमारियों को दूर रखने में मदद करता है। यह उन लोगों के लिए फायदेमंद है, जो कच्चा लहसुन खाने से कतरारे हैं। चलिए आपको बताते हैं कि कैसे तैयार किया जाता है काला लहसुन और इसके फायदे...

PunjabKesari

कैसे बनता है काला लहसुन?

सफेद लहसुन को कम से कम दो सप्ताह के लिए अलग-अलग तापमान में किण्वित किया जाता है जब तक कि वो काले न हो जाए और छिलका भूरे रंग का न हो जाए। यह रासायनिक प्रतिक्रिया तब होती है जब लहसुन को नम स्थितियों में140 डिग्री फ़ारेनहाइट के कम तापमान में रखा जाता है। यह तापमान और लहसुन की आर्द्र स्थितियां अमीनो एसिड व प्रतिक्रियाओं को ट्रिगर करती हैं, जिससे इसका स्वाद, बनावट और स्वाद बदल जाता है। लहसुन का रंग इसमें मौजूद मेलेनोइडिन नामक यौगिक के उत्पादन से आता है। यह प्रतिक्रिया न केवल रंग बदलती है बल्कि इसकी मजबूत सुगंध, कुरकुरेपन और स्वाद को भी बदल देती है। यह प्रक्रिया तीखे स्वाद को दूर करती है और लहसुन को चबाने योग्य और दोगुना पोषणयुक्त बनाती है।

चलिए अब आपको बताते  हैं काले लहसुन के फायदे...

 

ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाए

काले लहसुन में एलिसिन नामक तत्व होता है जो ब्लड सर्कुलेशन बढ़ाता है। इससे खून का थक्का बनने की संभावना कम होती है।

दिल को रखे स्वस्थ

दिन में एक लहसुन की कली दिल की बीमारियों को दूर रख सकती है! लहसुन का सेवन करने से दिल के स्वास्थ्य में सुधार और दिल के दौरे और स्ट्रोक के जोखिम को कम करने में मदद मिल सकती है।

PunjabKesari

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल

रोज सुबह काला लहसुन चबाने से कलेस्ट्रॉल कम होता है, जिससे, कार्डियोवस्कुलर डिजीज का खतरा कम रहता है।

ब्लड शुगर कंट्रोल

यह शरीर में इंसुलिन संतुलन को नियंत्रित करने और शर्करा के स्तर को कंट्रोल करने के लिए बहुत अच्छा है। ऐसे में डायबिटीज मरीजों को इसका सेवन जरूर करना चाहिए।

इम्यूनिटी बढ़ाए

यह सेल्स के लिए अच्छा होता है और साथ ही इम्यूनिटी बढ़ाने में भी मदद करता है। इससे मौसमी बीमारियों से बचाव रहता है।

PunjabKesari

पोषक तत्वों से भरपूर

फर्मनटेशन की वजह से काले लहसुन में कुछ अलग एंटीऑक्सीडेंट्स, पॉलीफिनॉल्स, फ्लवोनॉइड्स और एल्कलॉइड्स बनते हैं, जो कई बीमारियों का खतरा घटाते हैं।

कैंसर से बचाव

शोध के अनुसार, खाली पेट काला लहसुन खाने से ब्लड, पेट और कोलन कैंसर का खतरा कम होता है। ऐसे में अगर आप भी कैंसर से बचना चाहते हैं तो काला लहसुन जरूर खाएं।

वजन घटाए

इससे मेटाबॉलिजम में सुधार होता है। साथ ही काले लहसुन में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट ट्राइग्लिसराइड्स के स्तर को कम और शुगर को नियंत्रित करने के साथ-साथ वजन को रम करने में भी मदद करते हैं।

PunjabKesari

लिवर डिटॉक्स

इससे लिवर डिटॉक्स होता है और यह एलर्जी दूर करने में भी मदद करता है।

सुपर ब्रेन फूड

काले लहसुन का नियमित सेवन मस्तिष्क के विकास के लिए बहुत अच्छा है। यह  डिमेंशिया और अल्जाइमर को दूर रख सकता है, जो मस्तिष्क में क्षतिग्रस्त कोशिकाओं के कारण होते हैं।

अब तो आप जान ही गए होंगे कि काले लहसुन में कितने सारे गुण होते हैं तो आप भी इसे अपनी डाइट में भी शामिल कर लीजिए।

Related News