01 MARMONDAY2021 8:03:35 AM
Nari

Corona: क्यों महिलाओं से ज्‍यादा पुरुषों को है कोरोना वायरस से अधिक खतरा?

  • Edited By Janvi Bithal,
  • Updated: 24 Dec, 2020 12:48 PM
Corona: क्यों महिलाओं से ज्‍यादा पुरुषों को है कोरोना वायरस से अधिक खतरा?

कोरोना वायरस दिन प्रतिदिन खतरनाक रूप लेता जा रहा है। इसकी चपेट में हर कोई आ रहा है बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक लेकिन वहीं इस पर बहुत सारी स्टडी भी सामने आ रही है। स्टडीज में यह पाया गया है कोरोना एक ऐसी बीमारी है जो हर उम्र के लोगों को और हर लिंग के लोगों को प्रभावित करती है लेकिन हाल ही में किए गए अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि कोरोना की चपेट में आने वाली महिलाओं की संख्या कम है। 

नई खोज में मिला प्रोटीन

PunjabKesari

अब ऐसे में यह सवाल बार-बार उठाया जा रहा है कि क्या महिलाएं पुरूषों के मुकाबले ज्यादा स्ट्रांग है या फिर इसके पीछे क्या कारण हैं। हालांकि इस पर वैज्ञानिकों की अपनी अपनी राय है लेकिन वैज्ञानिकों की नई खोज में कुछ ऐसे प्रोटीन मिले हैं जो कोरोना से महिलाओं को बचाते हैं। तो आइए जानते हैं किस तरह काम करता है यह प्रोटीन। 

 ACE 2 प्रोटीन करता है कोरोना से सुरक्षा

इस खोज में मिलने वाले जिस प्रोटीन की बात की जा रही है वह है ACE 2 रिसेप्टर और यह वो प्रोटीन है जिससे कोरोना से बचाव होता है। और इसी प्रोटीन के कारण ही कोरोना के केस महिलाओं में कम देखने को मिले। 

क्या है  ACE 2 प्रोटीन ?

PunjabKesari

वहीं अब आपको बताते हैं कि यह प्रोटीन क्या है। दरअसल  ACE 2  खास एन्‍जाइम है। यह इस तरह से काम करता है जो अपने आप को SARS-COV-2 से बांध लेता है और तब जल्दी-जल्दी रिप्लिकेट करने लगता है। इतना ही नहीं यह प्रोटीन कुछ तरह के हृदय और रक्त संबंधी फेफड़े संबंधी बीमारियों से भी रक्षा करता है। वहीं रिसर्चर ने यह भी पाया कि ACE-2 की संख्या आपके सिस्टम से वायरस को छान कर अलग कर देती है जिससे आपका शरीर एक तरीके से वायरस से सुरक्षित हो जाता है। 

क्यों पुरूषों पर भारी पड़ रहा कोरोना ?

वहीं बात पुरूषों की करें तो महिलाओं के मुकाबले पुरुषों के खून में ACE2 की मात्रा ज्यादा होती है। इसी के जरिए वायरस शरीर में फैलता हैं और कुछ स्टडी की मानें तो महिलाओं में पुरूषों के मुकाबले इसकी संख्या कम होती है। कोरोनावायरस इस एन्‍जाइम के जरिए ही पुरुषों में स्वस्थ कोशिकाओं को संक्रमित करता है। वहीं महिलाओं की इम्यूनिटी इसलिए भी अच्छी होती है क्योंकि उनमें दो X क्रोमोजोन होते हैं पुरुषों में सिर्फ एक।

यह अन्य कारण भी आए सामने 

PunjabKesari

वहीं इसके साथ ही यह भी पाया गया कि पुरूष महिलाओं के मुकाबले बाहर अधिक जाते हैं और वह अपनी सेहत को लेकर भी इतने चिंतित नहीं होते हैं यहीं वजह है कि उनमें वायरस का खतरा अधिक पाया जाता है। वहीं पुरूष तंबाकू, शराब जैसी चीजों का सेवन भी करते हैं जिससे इस वायरस का खतरा और बढ़ जाता है। 

Related News